Indian Army Achievement : भारतीय सेना ने अब इस फील्ड में रचा इतिहास, यह कारनामा करने वाली बनी इकलौती सरकारी संस्थान

Indian Army Achievement: Indian Army has now created history in this field, becoming the only government institution to achieve this feat.

Indian Army Achievement : भारतीय सेना ने अब इस फील्ड में रचा इतिहास, यह कारनामा करने वाली बनी इकलौती सरकारी संस्थान

Indian Army Achievement : नई दिल्ली। सिर्फ स्वास्थ्य सेवाओं के लिए संचालित अस्पताल जो काम नहीं कर सके वो काम सेना के एक अस्पताल ने कर दिखाया है। दिल्ली कैंट स्थित आर्मी हॉस्पिटल (R & R) के कान, नाक और गला (ENT) विभाग ने पिछले 18 महीनों में मरीजों के दोनों कानों में एक साथ कॉक्लियर प्रतिरोपण (cochlear implant) के 50 ऑपरेशन किए हैं। वह इतने सफल प्रतिरोपण ऑपरेशन करने वाला देश का एकमात्र सरकारी अस्पताल बन गया है।

कॉक्लियर इम्प्लांट एक अत्याधुनिक चिकित्सा उपकरण है जिसके जरिए सुनने में अक्षम मरीजों को न सिर्फ सुनने में मदद मिलती है, बल्कि यह उन्हें मुख्यधारा में आने में सक्षम बनाता है। इस इम्प्लांट की कीमत हमेशा चिंता का विषय रही है, जिससे इसकी पहुंच सीमित हो गई। सरकार द्वारा वित्त पोषित अधिकांश कार्यक्रमों में बच्चों को केवल एक कॉक्लियर इम्प्लांट दिया जाता है। हालांकि दोनों कानों से सुनने का लाभ इसकी कीमत से कहीं ज्यादा है और सशस्त्र बल चिकित्सा सेवा ने इस बात को तत्काल महसूस किया।

Indian Army Achievement : भारतीय सेना ने अब इस फील्ड में रचा इतिहास, यह कारनामा करने वाली बनी इकलौती सरकारी संस्थान

Indian Army Achievement: मार्च 2022 में, सशस्त्र बलों में श्रवण-बाधित रोगियों के लिए कॉक्लियर इम्प्लांट की नीति को संशोधित किया गया और इसमें एक साथ दोनों कानों में प्रतिरोपण को शामिल किया गया। चिकित्सा मानकों को विकसित देशों के बराबर लाने वाली यह देश की पहली नीति थी।

डीजी सशस्त्र बल चिकित्सा सेवा लेफ्टिनेंट जनरल दलजीत सिंह और डीजीएमएस (सेना) लेफ्टिनेंट जनरल अरिंदम चटर्जी ने इसके लिए आर्मी हॉस्पिटल (आर एंड आर) को बधाई दी है और संस्थान को और अधिक सम्मान मिलने की कामना की है।

Indian Army Achievement : भारतीय सेना ने अब इस फील्ड में रचा इतिहास, यह कारनामा करने वाली बनी इकलौती सरकारी संस्थान

आर्मी हॉस्पिटल (आर एंड आर) सशस्त्र बलों का शीर्ष अस्पताल है और वर्तमान में इसकी कमान लेफ्टिनेंट जनरल अजित नीलकांतन के पास है जो ईएनटी और हेड एंड नेक ऑन्कोसर्जरी के विशेषज्ञ हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *