Sukanya Samriddhi Yojana : यह योजना बनाती है बेटियों को लखपति, नहीं फैलाने पड़ेंगे किसी के आगे हाथ

Sukanya Samriddhi Yojana : बेटियों को सशक्त बनाने पर सरकार का पूरा ध्यान है। यही कारण है कि उनके लिए इस उद्देश्य से कई योजनाएं केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा चलाई जा रही हैं। इनमें कुछ योजनाएं ऐसी हैं जिनमें सरकार खुद ही अपनी तरफ से पूरा योगदान देती है। इसमें लाक्ष्मी लक्ष्मी योजना प्रमुख रूप से शामिल है।

इसके अलावा कुछ योजनाएं ऐसी हैं जिनमें बेटियों का परिवार थोड़ी सी योजनाबद्ध बचत कर बेटियों को कुछ सालों में ही लखपति बना सकता है। ऐसे में बेटियों की उच्च शिक्षा और विवाह आदि के भारी भरकम खर्च के लिए किसी के भी आगे हाथ फैलाने की जरुरत नहीं पड़ती है।

इस उद्देश्य से चलाई जा रही योजनाओं में सुकन्या समृद्धि योजना को प्रमुख रूप से शामिल किया जा सकता है। केंद्र सरकार द्वारा यह योजना वर्ष 2015 से चलाई जा रही है। इस योजना से करोड़ों बेटियां लाभान्वित हो रही हैं। आज हम इस योजना के बारे में विस्तार से जानेंगे।

कब खोल सकते हैं खाता

इस योजना के तहत बालिका के जन्म से लेकर 10 साल तक की उम्र तक खाता खोला जा सकता है। एक परिवार की अधिकतम 2 बेटियों को योजना का लाभ प्राप्त हो सकता है। योजना के तहत 15 साल तक खाते में राशि जमा करना होता है। इसमें प्रति वर्ष 250 रुपये से लेकर अधिकतम 1 लाख, 50 हजार रुपये तक जमा किए जा सकते हैं।

सुविधा के अनुसार निवेश

योजना में ऐसा नहीं है कि एक ही बार में राशि जमा करना है। अभिभावक अपनी सुविधा के अनुसार मासिक, त्रैमासिक, छमाही या साल भर में एक बार राशि जमा कर सकते हैं। शर्त यही है कि साल भर में कम से कम 250 और ज्यादा से ज्यादा डेढ़ लाख रुपये जमा कर सकते हैं।

योजना में कितना है ब्याज (Sukanya Samriddhi Yojana)

यह योजना जब शुरू हुई थी तब इसमें ब्याज दर 7.6 प्रतिशत थी। वर्तमान में योजना पर 8.2 प्रतिशत की दर से ब्याज प्रदान किया जा रहा है। यह अन्य योजनाओं की तुलना में अधिक है। छोटे से उदाहरण से इसे समझ सकते हैं कि आप यदि हर साल 1 लाख, 50 हजार रुपये निवेश करते हैं तो योजना समाप्त होने पर बेटी को 44 लाख रुपये के लगभग वापस मिलेंगे।

कब निकाल सकते राशि (Sukanya Samriddhi Yojana)

वैसे तो योजना की परिपक्वता अवधि 15 साल है। इसलिए पूरी राशि 15 साल में ही निकाल सकते हैं, लेकिन योजना बेटियों के आने वाले खर्च को पूरी करने शुरू हुई है। इसलिए बेटी के 18 साल की होने पर उसके विवाह या उच्च शिक्षा के लिए जमा राशि का 50 प्रतिशत हिस्सा निकाला जा सकता है।

कहां खुलवा सकते खाता (Sukanya Samriddhi Yojana)

इस योजना के तहत किसी भी पोस्ट ऑफिस या बैंक में खाता खोलकर योजना का लाभ लिया जा सकता है। इसकी आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन ही है। ऐसे में आवश्यक दस्तावेज लेकर करीबी पोस्ट ऑफिस या बैंक जाना होगा। वहां बड़ी आसानी से खाता खुलवा कर योजना चालू की जा सकती है।

इन दस्तावेजों की जरुरत (Sukanya Samriddhi Yojana)

योजना का लाभ लेने के लिए जरुरी है कि बालिका का जन्म भारत में हुआ हो। इसके लिए उसका जन्म प्रमाण पत्र, बालिका का आधार कार्ड, माता या पिता का आधार कार्ड, माता या पिता का पहचान पत्र, मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साइज फोटो की जरुरत पड़ती है।

देश–दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | Trending खबरों के लिए जुड़े रहे betulupdate.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए सर्च करें betulupdate.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *