Shree Krishna Janmashtami : गुरुकुल विद्या मंदिर में बच्‍चों को बताए श्री कृष्ण के 108 रूपों का महत्व, धूमधाम से मना जन्‍माष्‍टमी का पर्व

Shree Krishna Janmashtami: Importance of 108 forms of Shri Krishna told to children in Gurukul Vidya Mandir, Janmashtami festival celebrated with pomp

Shree Krishna Janmashtami : गुरुकुल विद्या मंदिर में बच्‍चों को बताए श्री कृष्ण के 108 रूपों का महत्व, धूमधाम से मना जन्‍माष्‍टमी का पर्व

▪️ राकेश अग्रवाल, मुलताई 

Shree Krishna Janmashtami: नगर के गुरुकुल विद्या मंदिर में आज जन्माष्टमी का पर्व मनाया गया। इस पर्व में हिन्दू परिवारों के साथ मुस्लिम परिवारों के बच्चो ने भी हिस्सा लिया और वह कृष्ण की वेशभूषा में स्कूल पहुँचे।

इस दौरान भगवान श्री कृष्ण के 108 रूपों का महत्व बताया गया, वहीं स्कूल के 108 विद्यार्थी कृष्ण बनकर स्कूल पहुंचे थे। साथ ही जन्माष्टमी का मुख्य उद्देश्य भागवत गीता के 18 अध्यायों से विद्यार्थियों को श्री कृष्ण के वास्तविक स्वरूप से परिचित कराना था। जिसमें भगवत के हर एक अध्याय में कितने श्लोक है और उन सभी अध्यायों को किन नामों से जाना जाता है, इसकी जानकारी विद्यार्थियों को दी गई। कक्षा 9वी एवं 10वीं के विद्यार्थियों ने भागवत गीता की जानकारी से अन्य विद्यार्थियों को अवगत कराया।

Shree Krishna Janmashtami : गुरुकुल विद्या मंदिर में बच्‍चों को बताए श्री कृष्ण के 108 रूपों का महत्व, धूमधाम से मना जन्‍माष्‍टमी का पर्व

इस दौरान स्कूल में भगवत गीता के मंचीय नाटक का आयोजन भी किया गया जिसमे मुख्य भूमिका द्वारिकाधीश के रूप में प्रणव कुमार साहू और अर्जुन रूप में अन्वी ओमकार द्वारा निभाई गई। कार्यक्रम में मटकी फोड़ के साथ साथ समस्त राधाकृष्ण बनकर आए विद्यार्थियो पर फूलों की बरसात कर भजनों पर नृत्य किया गया।

स्कूल के प्राचार्य अतुल बारंगे ने बताया कि कक्षा 1 से5 तक के विद्यार्थी कान्हा रूप में स्कूल आये थे। घर से विद्यार्थियो ने माखन मटकी आरती की थाली,मोर पंख ,भगवान का झूला, बासूरी लेकर आये थे। जन्माष्टमी पर पहली बार भगवतगीता से विद्यार्थियों को अवगत कराने के लिए इस तरह के मंचीय नाटक का आयोजन किया गया था, जिसे पालकों ने भी सराहा। कार्यक्रम शिक्षिका रिंकी पवार के मार्गदर्शन में तैयार किया गया था।वही कार्यक्रम में शिक्षका नीता मंसोरिया, वैशाली पवार, वैष्णवी पवार, कविता चिल्हाटे, ज्योति बारस्कर, कविता झरबड़े, प्रगति दुर्गे, दीपाली पवार, पूजा दुबे, अदिति यादव, कुसुम पवार का सहयोग रहा।

आमिल खान बने कान्हा तो अमायरा शाह राधा…

गुरुकुल स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में मुस्लिम छात्र छात्राएं जुनैन खान, अमायरा शाह, हुमेरा, आमिल, जो राधा कृष्ण के रूप में आये। साथ ही कक्षा 9 वी से इंशामिस्बा खान, और साहिबा बानो द्वारा भगवत गीता के उपदेश प्रस्तुत कर मजहबी एकता का संदेश कार्यक्रम के माध्यम से प्रस्तुत कर कार्यक्रम की शोभा को बढ़ाया।

Related Articles