MSP Par Moong Kharidi : मूंग बेचने मात्र 3400 किसानों ने कराया पंजीयन

MSP Par Moong Kharidi : बैतूल। समर्थन मूल्य पर मूंग की उपज बेचने के लिए पंजीयन की सोमवार आखरी तिथि थी। इस बार मूंग बेचने के लिए बहुत कम किसानों ने किया है। इस बार मूंग का अच्छा उत्पादन हुआ है। वहीं एक बार तिथि भी बढ़ाई जा चुकी है। इसके बावजूद किसानों ने खास रूचि नहीं दिखाई।

कृषि विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक अंतिम तिथि की दोपहर तक लगभग 3400 किसान ही पंजीयन कर पाए है। अब तिथि बढ़ने की संभावना नहीं है। एक बार पंजीयन तिथि को आगे बढ़ा दिया था। इसके बाद दोबारा तारीख बढ़ाए जाने की कोई सूचना नहीं है।

अच्छा हुआ मूंग उत्पादन

इस बार जिले में मूंग का उत्पादन अच्छा हुआ है। इसके बावजूद भी बहुत कम किसानों ने पंजीयन कराया है। उधर बीते कई दिनों से कृषि उपज मंडी में उपज की आवक होने लगी है। इससे साफ है कि किसान समर्थन मूल्य पर मूंग नहीं बेचना चाहते।

मंडी में मिल रहे अच्छे दाम (MSP Par Moong Kharidi)

समर्थन मूल्य पर मूंग बेचने के लिए पंजीयन कम होने के कई कारण हैं। मुख्य कारण तो यही है कि मंडी में किसानों को अच्छे दाम मिल रहे है। मंडी में उपज बेचने वाले किसानों को समय पर भुगतान भी हो जाता है। वहीं समर्थन मूल्य में उपज बेचने वाले किसान परेशान होते हैं। इसलिए किसान समर्थन मूल्य पर बेचने से किनारा करने लगे हंै।

इतने रकबे में हुई बुआई (MSP Par Moong Kharidi)

ग्रीष्मकालीन मूंग की जिले में अच्छी फसल हुई है। इस बार मूंग के रकबे को बढ़ाकर 7 हजार हेक्टेयर कर दिया था। पानी अच्छा मिलने के कारण रकबे में बढ़ोत्तरी हुई और किसानों ने मूंग की बोवनी में भी दिलचस्पी दिखाई।

गर्मी के दिनों में भी कई बार बारिश होने से मूंग की फसल को पानी मिल गया। सिंचाई करने की आवश्यकता भी कम पड़ी। इसलिए मूंग का उत्पादन इस बार अच्छा हुआ है।

खरीदी का नहीं ठिकाना (MSP Par Moong Kharidi)

कृषि उपज मंडी बैतूल में किसान बड़ी संख्या में उपज लेकर पहुंच रहे है। किसानों से पंजीयन तो करा लिए, लेकिन समर्थन मूल्य पर मूंग की खरीदी कब प्रारंभ होगी, अभी इसकी तिथि नहीं आई है।

कृषि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पंजीयन होने के बाद अब खरीदी केन्द्र बनाने की तैयारी की जा रही है। जिस क्षेत्र में किसानों का पंजीयन अधिक होगा, उन क्षेत्रों में प्राथमिकता से खरीदी केन्द्र बनाया जाएगा।

देश-दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | Trending खबरों के लिए जुड़े रहे betulupdate.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए सर्च करें betulupdate.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *