मध्यप्रदेश अपडेट

Ladli Bahana Yojana: अब 10 तारीख को नहीं आएगी लाड़ली बहना योजना के पैसे! सरकार इन जिलों में खोलेगी आयुर्वेदिक कॉलेज

Ladli Bahana Yojana: अब 10 तारीख को नहीं आएगी लाड़ली बहना योजना के पैसे! सरकार इन जिलों में खोलेगी आयुर्वेदिक कॉलेज
Ladli Bahana Yojana: अब 10 तारीख को नहीं आएगी लाड़ली बहना योजना के पैसे! सरकार इन जिलों में खोलेगी आयुर्वेदिक कॉलेज

Ladli Bahana Yojana: मध्‍य प्रदेश सरकार द्वारा प्रचलित लाड़ली बहना योजना के अंतर्गत अब तक बहनों को 9 से अधिक किस्‍त मिल चुकी है। मुख्‍यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने मार्च में आ रहे त्‍योहारों को ध्‍यान में रखते हुए 1 मार्च को ही बहनों के खाते में लाडली बहना योजना की राशि खाते में डालने निर्णय लिया है। उन सभी महिलाओं के लिए बड़ी खुशखबरी है, जो 10 वीं किस्‍त का इंतजार कर रही है।

बता दे कि इसकी जानकारी खुद सीएम यादव ने बालाघाट में एक कार्यक्रम में दी। इस योजना की घोषणा करते हुए कहा कि इस बार करोड़ों बहनों को लाड़ली बहना योजना की 10 वीं किस्त तय समय से पहले दे दी जाएगी।

1 मार्च को आएगी अगली किस्‍त

आगामी शिवरात्रि और होली त्योहारों को देखते हुए मार्च महीने की अगली किस्त 10 तारीख के बजाय 1 मार्च को बहनों के खातों में जमा की जाएगी ताकि त्योहारों के दौरान बहनों को कोई परेशानी न हो। इसके तहत 1.29 करोड़ बहनों के खाते में 1250 करोड़ रुपये जारी किये जायेंगे।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने अपने बालाघाट दौरे के दौरान 761 करोड़ रुपये के विभिन्न विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने प्रदेश की प्यारी बहनों को संबोधित करते हुए कहा कि कोई भी योजना बंद नहीं होगी। इस योजना से माताओं-बहनों के जीवन में रोशनी आती है। महिलाओं और लड़कियों के लिए लाडली बहना और कन्यादान योजना शुरू की गई है।

सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री और साथ ही जनता के प्रधान सेवक हैं। रेंजर कॉलेज मैदान में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार के समन्वय से हम डबल इंजन सरकार के रूप में राज्य के समग्र विकास की ओर बढ़ रहे हैं।

हर जिले में खुलेंगे आयुर्वेदिक कॉलेज (Ladli Bahana Yojana)

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जंगली जिलों में आयुर्वेदिक कॉलेज खोलने के लिए प्रतिबद्ध है, क्योंकि यहां जंगलों में उगने वाली जड़ी-बूटियों और औषधियों के माध्यम से आयुर्वेदिक उपचार की पद्धति का उपयोग सैकड़ों वर्षों से किया जा रहा है। इसी आधार पर उन्होंने बालाघाट जिले में आयुर्वेदिक कॉलेज खोलने की मंजूरी की घोषणा करते हुए कहा कि इससे औषधियों का भरपूर उपयोग हो सकेगा।

सीएम यादव ने कहा कि पूर्व आयुष मंत्री एवं जिला भाजपा अध्यक्ष कावरे जी ने बालाघाट जिले में आयुर्वेदिक कॉलेज खोलने का अनुरोध किया था। 300 करोड़ रुपये के उद्योग स्थापित करने वाले निवेशकों से बातचीत करते हुए यादव ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में उद्योग स्थापित करने के लिए हर संभव सहायता देने को तैयार रहेगी। उन्होंने सांसदों और विधायकों के साथ एक रोड शो में भी हिस्सा लिया।

देश-दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | Trending खबरों के लिए जुड़े रहे betulupdate.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए सर्च करें betulupdate.com

“बैतूल अपडेट” व्हाट्सएप चैनल से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें 👇

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button