Betul Train News : चलती ट्रेन में महिला यात्री से छेड़छाड़, विरोध करने पर पीड़िता और उसके पति के साथ मारपीट

Betul Train News : चलती ट्रेन में महिला यात्री से छेड़छाड़, विरोध करने पर पीड़िता और उसके पति के साथ मारपीट

▪️ राकेश अग्रवाल, मुलताई

Betul Train News: आमला से मुलताई के बीच मेमो पैसेंजर ट्रेन में आज एक महिला के साथ छेड़छाड़ की घटना सामने आई है। जब महिला ने इस छेड़छाड़ का विरोध किया तो आरोपी ने महिला और उसके पति के साथ जमकर मारपीट की है। इधर सूचना मिलने पर मुलताई में मारपीट और छेड़छाड़ के आरोपी को रेलवे स्टेशन पर उतारकर मुलताई पुलिस ने पकड़कर आरोपी को अमला जीआरपी को सौंपा है।

जीआरपी आमला थाना प्रभारी प्रमोद पाटिल ने बताया कि पैसेंजर ट्रेन में आमला से मुलताई आ रही महिला के साथ आमाबघोली निवासी ओमप्रकाश पिता भीमसिंह राजपूत (27 साल) ने शराब के नशे में छेड़छाड़ की थी। जब महिला ने इसका विरोध किया तो आरोपी ने महिला और उसके पति के साथ मारपीट की।

पीड़ित महिला डर के कारण जौलखेड़ा स्टेशन पर उतर गई थी और इसकी सूचना उसने डायल हंड्रेड के माध्यम से पुलिस को दी थी। सूचना पाकर मुलताई में डायल हंड्रेड ने आरोपी ओमप्रकाश को रेलवे स्टेशन पर उतार लिया था। वहीं ट्रेन में हुई छेड़छाड़ की घटना के बाद जीआरपी भी एक्टिव हो गई।

Betul Train News : चलती ट्रेन में महिला यात्री से छेड़छाड़, विरोध करने पर पीड़िता और उसके पति के साथ मारपीट

जीआरपी ने तुरंत ही आरोपी ओम प्रकाश को गिरफ्तार किया। वहीं महिला ने पूरे मामले की शिकायत जीआरपी अमला में की है। टीआई प्रमोद पाटिल ने बताया कि पीड़िता ने जब छेड़छाड़ का विरोध किया तो आरोपी ने उसके साथ मारपीट किया। उसका हाथ मोड़ दिया। वहीं उसका पति जब बीच बचाव करने आया तो उसके साथ भी मारपीट कर उसे घायल किया है। जीआरपी पुलिस द्वारा इस मामले में धारा 354 और 323 भादवि के तहत अपराध दर्ज किया जा रहा है।

पुलिस थाने में हुई शांति समिति की बैठक

मुलताई पुलिस थाने में शांति समिति की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें एसडीएम, एसडीओपी, टीआई सहित अन्य विभाग के अधिकारी शामिल हुए। नवदुर्गा सहित आदर्श आचार संहिता के परिपालन को लेकर इस बैठक का आयोजन किया गया था। जिसमें विभिन्न लोगों से शांतिपूर्वक का त्यौहार मनाने का आग्रह किया गया है।

इधर बैठक में तय किया गया है की देवी विसर्जन में फूहड़ गाने नहीं बजाए जाएंगे और तेज आवाज में डीजे नहीं बजाया जाएगा। बैठक में एसडीएम ने कहा कि सभी आचार संहिता का पालन करें, आचार संहिता का उल्लंघन करने पर कार्रवाई की जाएगी। शांति समिति की बैठक में एसडीएम तृप्ति पटेरिया, तहसीलदार अनामिका सिंह, एसडीपी सुरेश पाल सिंह, टीआई प्रज्ञा शर्मा सहित नगर पालिका सके सीएमओ के प्रतिनिधि शामिल हुये।

बैठक में लोगों ने इस बात को लेकर अपना आक्रोश व्यक्त किया कि नगर पालिका से सीएमओ बैठक में क्यों नहीं शामिल हुए है, वहीं बिजली कंपनी से भी कोई अधिकारी कर्मचारी बैठक में मौजूद नहीं था। इधर लोगों ने मांग की है कि विसर्जन के दौरान फिल्मी गाने नहीं बजाये जाए। इस तरह से गाने बजाने पर वाद-विवाद की स्थिति निर्मित हो जाती है और त्यौहार का मजा किरकिरा हो जाता है।

इस पर अधिकारियों ने भरोसा दिलाया है कि डीजे वालों की बैठक अलग से लेकर उन्हें ताकीद किया जाएगा की फूहड़ गाने डीजे पर ना बजे, एसडीएम ने कहा कि किसी भी प्रकार की होर्डिंग और डीजे सहित ध्वनि विस्तारक यंत्र लगाने के लिए एसडीएम ऑफिस से विधिवत्त अनुमति लेना आवश्यक है,जो बिना अनुमति के ध्वनि विस्तार का इस्तेमाल करेगा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Comment