छोटे से निजी कर्मचारी का बड़ा दिल: बेटे के जन्मदिन पर गरीबों को बांटे कपड़े

  • उत्तम मालवीय (9425003881)
    बैतूल।
    अजास जनकल्याण संगठन के देवेंद्र वाईकर वैसे प्रायवेट कंपनी में छोटे से पद पर कार्य करते हैं पर सेवा भाव में उनका दिल बेहद बड़ा है। उनकी यही दरियालदिली बेटे के जन्मदिन पर भी नजर आई। उन्होंने गरीब तबके के ग्रामीणों के लिए अपनी एक महीने की मजदूरी खर्च करते हुए भीमपुर विकासखंड के आदिवासी बाहुल्य ग्राम गुराड़िया में एक सैकड़ा लोगों को कपड़े वितरित किए और अपने पुत्र नितेश वाईकर का जन्मदिन मनाया।

    इस अवसर पर देवेंद्र वाईकर, नितेश वाईकर, वर्षा खातरकर, पंकज डोंगरे द्वारा ग्राम में कपड़े वितरण, स्वास्थ्य शिक्षा के साथ बच्चों को कॉपी, बिस्किट वितरित कर विद्यार्थी दिवस भी मनाकर ग्रामीणों के चेहरे पर आत्मविश्वास और खुशी की चमक दी जो सही मायने में दीपावली के दीपक की चमक है।
    कोविड से बचाव के लिए किया सतर्क
    अजास संगठन और स्वास्थ्य विभाग से पंकज डोंगरे द्वारा ग्रामीणों को मजदूरी पर जाने और वापस आने, दोनों समय पर स्वास्थ्य कर्मचारी या ग्राम आशा कार्यकर्ता को सूचित किए जाने के साथ एहतियातन जांच और कोविड से बचाव के लिए टीकाकरण व अन्य समस्त उपायों को उपयोग में लाने की जानकारी दी। इसके साथ ही ग्रामीण अंचलों में 1 माह तक चलने वाली परम्परागत दीपावली पर कोविड सतर्कता रखे जाने की अपील की गई।
    बच्चों के अधिकारों की दी जानकारी
    अजास और चाइल्ड लाइन सदस्या वर्षा खातरकर द्वारा नागरिकों को और बच्चों को प्रदत्त अधिकारों की जानकारी देते हुए उनके हनन होने पर किस प्रकार सहायता केंद्रों से सम्पर्क कर समाधान किया जा सकता है, इस बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी।

  • Leave a Comment