ऐसा भी हो रहा: नाम-पता गलत, नहीं मिल रही महिला मरीज

  • सचिन बिहारिया, खेड़ली बाजार
    कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में प्रतिदिन इजाफा हो रहा है। इस बढ़ते संक्रमण ने शासन-प्रशासन की चिंता बढ़ा रखी है। दूसरी ओर कोविड टेस्ट कराने पहुंच रहे लोगों द्वारा अपने नाम, पते, मोबाइल नंबर की गलत जानकारी दर्ज करा कर भी परेशानियों में इजाफा किया जा रहा है। पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर ऐसे मरीजों से स्वास्थ्य विभाग का संपर्क नहीं हो पा रहा है।

    स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार उनके एंट्री रजिस्टर के मुताबिक ग्राम खेड़ली बाजार में भी एक 35 वर्षीय महिला की 21 जनवरी 2022 कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उसने आमला में अपना आरटीपीसीआर टेस्ट कराने सेंपल दिया था। जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसके नाप, पते के साथ दर्ज मोबाइल नंबर पर संपर्क किया गया। लेकिन उस मोबाइल नंबर पर कोई फोन नहीं उठा रहा है।

    इसके बाद स्वास्थ्य विभाग खेड़ली बाजार के कर्मचारियों तथा ग्राम प्रधान को इस संबंध में जानकारी दी गई। उक्त पॉजिटिव महिला की तलाश की गई, लेकिन उक्त नाम की महिला का कोई पता नहीं चल पाया। अब यह संक्रमित मरीज न जाने कितनों को संक्रमित करेगा। यह एक मामला सिर्फ खेड़ली बाजार का ही नहीं है बल्कि न जाने ब्लॉक और जिले में ऐसे कितने मामले हो सकते हैं जिनके नाम, पते और मोबाइल नंबर संबंधित जानकारी गलत दर्ज कराई गई है।

    घातक संक्रमण कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब हम सभी को सतर्क होने की आवश्यकता है। इसके साथ ही हम सभी को अपने दायित्वों को समझने की भी आवश्यकता है। यदि हमें किसी भी प्रकार के कोरोना संबंधी लक्षणों का एहसास होता है तो सबसे पहले हमें चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए। इसके उपरांत हमें अपनी कोरोना जांच करवाना चाहिए। कोरोना जांच के समय अपना सही नाम, पता तथा मोबाइल नंबर दर्ज करवाएं।कोरोना रिपोर्ट आने तक सभी से फिजिकल डिस्टेंस बनाएं रखें, मास्क पहने और सैनिटाइजर का प्रयोग करते रहे।

  • Leave a Comment