Betul Political News: शिवराज के शासन में प्रदेश हुआ बदहाल, अत्याचार और भ्रष्टाचार में डूबा प्रदेश : पचौरी

Betul Political News: शिवराज के शासन में प्रदेश हुआ बदहाल, अत्याचार और भ्रष्टाचार में डूबा प्रदेश : पचौरीBetul Political News: (बैतूल)। 18 सालों से प्रदेश की बदहाली और बर्बादी का जनता में शिवराज राज के ख़िलाफ़ जो असंतोष था, वह अब जन आक्रोश में तब्दील हो गया है। समूचे मध्यप्रदेश में चारों ओर भयंकर अराजकता, अपराध, भय, भ्रष्टाचार और लूट की खुली छूट है। आदिवासी, किसान, दलित, बेटियां, बच्चे, पिछड़े, नौजवान सबकी जबान पर बस एक ही बात है, “शिवराज हटाओ प्रदेश बचाओ”।

यह बात बुधवार को जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा चक्कर रोड पर एक निजी होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता में जन आक्रोश यात्रा प्रभारी पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कही। संयुक्त पत्रकार वार्ता में जन आक्रोश यात्रा प्रभारी पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन, प्रदेश महासचिव एवं जिला संगठन प्रभारी चन्द्रिका प्रसाद द्विवेदी एवं यात्रा सह प्रभारी पूर्व केबिनेट मंत्री सुखदेव पांसे उपस्थित थे।

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए यात्रा प्रभारी पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने बताया कि ये 7 यात्राएं प्रदेश भर में करीब 15 दिन में 11 हजार 400 किलोमीटर की दूरी तय करेंगी। इस दौरान यात्राएं प्रदेश के सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों में जाएंगी। इसका नेतृत्व अलग अलग स्थानों पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता करेंगे।

इस यात्रा से प्रदेश की जनता को गुमराह करने और डराने की राजनीति से जनता को सावधान किया जा रहा है। प्रदेश अत्याचार एवं भ्रष्टाचार के आकंठ में डूबा हुआ है। युवा बेरोजगार है किसान परेशान है। कमलनाथ जी जो कहते हैं, वह करते हैं। पूरे प्रदेश में कांग्रेस के पक्ष में माहौल बन गया है ।

बदहाली और बर्बादी के खिलाफ जन आक्रोश

पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन ने कहा आज मध्यप्रदेश के कोने-कोने से कानों में जन आक्रोश का स्वर सुनाई दे रहा है। बस जनता की इसी आवाज़ को सुनकर हम ‘जनाक्रोश यात्रा’ का आगाज़ कर रहे हैं। जहां शिवराज राज के ख़िलाफ़ जनता में आक्रोश है तो दूसरी ओर कांग्रेस व कमलनाथजी के प्रति जनता में जोश दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा मध्यप्रदेश की जनता में भयंकर जन आक्रोश क्यों व्याप्त हुआ? क्योंकि शिवराज राज ने पहले तो किसानों की आमदनी कम कर दी। युवाओं के भविष्य को व्यापम और पटवारी परीक्षा घोटाले की भेंट चढ़ाकर उनके भविष्य की हत्या कर दी। क्योंकि हमारे आदिवासी भाइयों के मुँह पर भाजपा नेता द्वारा पेशाब करके न सिर्फ़ उन्हें अपमानित किया गया बल्कि उनके 3 लाख 22 हजार आवास के पट्टे निरस्त करके उन्हें दरबदर भी कर दिया गया। क्योंकि पोषण आहार घोटाला करके कुपोषित बच्चों के निवाले पर डाका डाला गया। शिवराज सरकार की भ्रष्टाचार की भूख यहीं नहीं रुकती, वो 45 लाख स्कूली बच्चों की स्कूल की ड्रेस खा गए।

भाजपाई सत्ता ने मुर्दों के इलाज़ के नाम पर भी पैसे खा गए

प्रदेश महासचिव एवं जिला संगठन प्रभारी चन्द्रिका प्रसाद द्विवेदी ने बताया बेशर्म भाजपाई सत्ता ने दरिंदगी की सीमाएं इस हद तक पार कर दी कि आयुष्मान योजना में मुर्दों के इलाज़ के नाम पर भी पैसे खा गए। क्योंकि जनता में आक्रोश इसलिए भी है कि भ्रष्टाचार के पाप में आकंठ तक डूबी इस सत्ता ने भगवान महाकाल को भी नहीं छोड़ा। जो भगवान को नहीं छोड़ते, वो अन्नदाता किसान, दलित, आदिवासी व नौजवान को क्या छोड़ेंगे। क्योंकि 50 हजार से अधिक बेटियों की फ़र्जी शादी दिखाकर उनके हक का पैसा खा लिया गया और अंततः अपने पापों पर पर्दा डालने के लिए सतपुड़ा भवन को आग के हवाले कर हजारों फाइलें जला दी गईं। क्योंकि 18 सालों में मध्यप्रदेश में 58 हजार से अधिक बहन -बेटियों से बलात्कार हुए, 67 हजार से अधिक अपहरण हुए, पूरे देश में बच्चों के ख़िलाफ़ अपराध सबसे ज़्यादा मप्र में है, दलितों के ख़िलाफ़ अत्याचार में प्रदेश को नंबर वन बना दिया गया।

भाजपा की उल्टी गिनती शुरू

यात्रा सह प्रभारी पूर्व केबिनेट मंत्री सुखदेव पांसे ने कहा कदम दर कदम यात्रा बढ़ती जाएगी, भाजपा की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। आज प्रदेश की जनता में कांग्रेस व कमलनाथ जी के लिए जोश है, क्योंकि 27 लाख किसानों का कर्ज माफ़ किया। 87 प्रतिशत लोगों का बिजली का बिल 100 रु से कम कर दिया।माफ़ियाओं पर वार किया, मिलावटखोरों पर प्रहार किया और अब वचन दे रहे हैं कि 500 रु में गैस का सिलेंडर देंगे। 100 यूनिट तक बिजली बिल माफ़ कर देंगे, 200 यूनिट तक हाफ़ कर देंगे। बेटियों को 1500 रु प्रति माह का इंसाफ देंगे। किसानों को 5 हॉर्स पॉवर तक मोटर की बिजली मुफ़्त कर देंगे। कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना का उपहार देंगे। पिछड़ों को 27 प्रतिशत आरक्षण का लाभ देंगे। प्रदेश को जातिगत जनगणना का न्याय देंगे, किसानों का कर्ज माफ़ कर देंगे। पत्रकार वार्ता में आदिवासी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रामू टेकाम, प्रदेश महासचिव समीर खान, प्रदेश सचिव तिरुपति एरुलू, संभागीय प्रवक्ता हेमन्त पगारिया, जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष हेमंत वागद्रे, जिला कांग्रेस शहर अध्यक्ष सुनील शर्मा, जिला सेवादल अध्यक्ष अनुराग मिश्रा, राजेन्द्र जायसवाल, सीमा अतुलकर, पुष्पा पेन्द्राम, मोनिका निरापुरे, सलमान भाई, मोनू बड़ोनिया उपस्थित थे।