EPFO: ईपीएफओ देश के हर जिले में लगाएगा कैंप, स्थानीय स्तर पर ही होगा समस्याओं और शिकायतों का निराकरण

EPFO: EPFO ​​will set up camps in every district of the country, problems and complaints will be resolved at the local level only

EPFO: ईपीएफओ देश के हर जिले में लगाएगा कैंप, स्थानीय स्तर पर ही होगा समस्याओं और शिकायतों का निराकरण

EPFO : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) एक संशोधित ‘निधि आपके निकट’ कार्यक्रम के माध्यम से देश भर के सभी जिलों में बड़े पैमाने पर डिस्ट्रिक्ट आउटरीच कार्यक्रम शुरू कर रहा है। इस कार्यक्रम का शुभारंभ 27 जनवरी, 2023 को भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय में सचिव आरती आहूजा द्वारा वर्चुअल माध्यम से किया जाएगा।

निधि आपके निकट का दूसरा चरण न केवल नियोक्ताओं एवं कर्मचारियों के लिए शिकायत निवारण मंच और सूचना विनिमय नेटवर्क बनेगा, बल्कि विभिन्न राज्य सरकारों तथा केंद्र सरकार के विभागों में जिला स्तर वाले अधिकारियों के साथ सूचना के आदान-प्रदान हेतु एक महत्वपूर्ण मंच के रूप में स्थापित होगा। इस पहल के तहत एक हेल्प डेस्क बनाई जाएगी, जहां पर सदस्यों को ऑनलाइन दावा प्रस्तुत करने आदि जैसी विभिन्न सेवाएं उपलब्ध होंगी। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के सदस्यों की शिकायतों का मौके पर ही समाधान किया जायेगा और यदि किसी समस्या का उसी समय हल नहीं मिल पाता है, तो उसे ईपीएफओ के शिकायत पोर्टल पर दर्ज कर प्राथमिकता के आधार पर उसका समाधान किया जायेगा।

निधि आपके निकट एक विशेष पहल है, जिसके अंतर्गत ईपीएफओ के हितधारक शिकायत निवारण के लिए ईपीएफओ के क्षेत्रीय कार्यालयों में आते हैं, जबकि निधि आपके निकट 2.0 के तहत, ईपीएफओ अपने प्रत्येक हितधारक तक पहुंचेगा, इससे देश के सभी जिलों में संगठन की पहुंच और कार्यकुशलता में बढ़ोत्तरी होगी। इस कार्यक्रम का उद्देश्य हर महीने एक किसी विशेष दिन पर ही देश के सभी जिलों तक पहुंचना है। निधि आपके निकट 2.0 जनवरी 2023 से शुरू होकर हर महीने की 27 तारीख को संचालित किया जाएगा। यदि किसी माह की 27 तारीख को अवकाश होता है, तो इसे अगले कार्य दिवस पर आयोजित किया जाएगा।

यह लक्षित दृष्टिकोण उच्च कुशलता के माध्यम से सार्वजनिक संतुष्टि के साथ-साथ सुविधाओं के कुशल लाभ वितरण को सुनिश्चित करेगा। जिला जागरूकता शिविर व आउटरीच कार्यक्रम के रूप में निधि आपके निकट की पहुंच को विस्तृत करने तथा इसका दायरा बढ़ाने से देश के 500 से अधिक जिले जहां पर ईपीएफओ कार्यालय नहीं हैं, उनको भी कवर किया जाएगा और सदस्यों को सामाजिक सुरक्षा एवं निर्बाध सेवाएं प्रदान की जा सकती हैं।

ईपीएफओ ने सभी हितधारकों से आग्रह किया है कि वे इस कार्यक्रम को सफल व प्रभावी बनाने के लिए शिविरों में अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करें। केंद्रीय भविष्य निधि आयुक्त नीलम शमी राव ने सभी मुख्य सचिवों को पत्र भेजकर राज्य के हरेक जिला कलेक्टर को इस आउटरीच कार्यक्रम को सफल बनाने में पूर्ण सहयोग देने के निर्देश जारी करने का अनुरोध किया है। उन्होंने केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी), ईपीएफ के सदस्यों से अनुरोध किया कि वे अपने निकट शिविरों में सक्रिय रूप से भाग लें और ईपीएफ अधिकारियों को प्रेरित करें तथा उनको मार्गदर्शन प्रदान करें।

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन वर्षों से अपने ग्राहकों के कल्याण के लिए कई उपाय और सुधार करता रहा है। वर्ष 2015 में भविष्य निधि अदालत का नाम बदलकर निधि आपके निकट रखा गया तथा साल 2019 में ट्रेड यूनियनों की भागीदारी को आमंत्रित करके निधि आपके निकट कार्यक्रम की पहुंच में और सुधार किया गया। वर्ष 2021 में पेंशनरों की शिकायतों के निवारण के लिए एक विशेष मंच मासिक पेंशन अदालत की शुरुआत की गई थी।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker