Betul Suspension News: कलेक्टर ने आधा दर्जन पटवारी, शिक्षक, सचिव और भृत्य को किया सस्पेंड

Betul Suspension News: कलेक्टर ने आधा दर्जन पटवारी, शिक्षक, सचिव और भृत्य को किया सस्पेंड

▪️ निखिल साेेेनी, आठनेर   

Betul Suspension News: बैतूल कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस (Betul Collector Amanbir Singh Bains) ने शुक्रवार को आठनेर विकासखंड के क्लस्टर ग्राम हिड़ली में ग्राम संवाद आयोजित कर आमजन की समस्याएं सुनीं एवं उनका निराकरण किया। इस दौरान 83 आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से 48 को मौके पर ही निराकृत किया गया। शेष के निराकरण के लिए समय-सीमा दी गई।

ग्राम संवाद में कलेक्टर श्री बैंस को ग्राम सूकी में पदस्थ पटवारी राजेश शनिचरे के विरूद्ध कार्य में लापरवाही एवं ग्रामीण क्षेत्र का दौरा नहीं करने की शिकायत मिलने पर उनको निलंबित करने के निर्देश दिए गए। ग्राम के प्राथमिक स्कूल में पदस्थ सहायक शिक्षक चैतराम कुमरे एवं राकेश वडघरे को भी कर्तव्य निर्वहन में लापरवाही के आरोप में निलंबित किया गया।

ग्राम पंचायत सूकी में स्कूल भवन एवं इसी ग्राम पंचायत के ढाना खैरी में आंगनबाड़ी भवन जर्जर पाए जाने की शिकायत मिलने पर लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री को उक्त भवनों के डिस्मेंटल हेतु जांच करने के निर्देश दिए गए। ग्राम सूकी में कपिलधारा कूप की मांग पर नियमानुसार परीक्षण करने के लिए संबंधित अधिकारी को कलेक्टर ने निर्देशित किया।

इसी ग्राम से संबंधित मामले में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र आठनेर में पदस्थ कर्मचारी द्वारा जन्म प्रमाण पत्र जारी करने में शिथिलता बरतने, जिसके कारण हितग्राहियों को लाड़ली लक्ष्मी योजना एवं जननी सुरक्षा योजना का लाभ मिलने में विलंब होने की शिकायत मिलने पर वहां पदस्थ कर्मचारी संजय झरबड़े की जांच कर उसके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। ग्राम में ट्रांसफार्मर जला होने की जानकारी मिलने पर विद्युत विभाग के अधिकारी को उक्त ट्रांसफार्मर को बदलने के लिए कहा गया।

ग्राम पानबेहरा में ग्राम पंचायत को मदद योजना के तहत मिले बर्तन एवं बाउण्ड्रीवाल की राशि में पूर्व सरपंच द्वारा अनियमितता किए जाने पर पंचायत की सामग्री का विस्तार से मूल्यांकन करने के लिए सीईओ जनपद पंचायत से कहा गया। यहां जलाशय की मांग पर जल संसाधन विभाग को सर्वेक्षण करने के निर्देश दिए गए।

सचिव ने प्रस्तुत नहीं की जानकारी

यहां पदस्थ पंचायत सचिव द्वारा पंचायत से संबंधित समुचित जानकारी प्रस्तुत नहीं किए जाने के कारण कलेक्टर द्वारा उक्त कर्मचारी को निलंबित करने के निर्देश दिए गए। ग्राम में एक आंगनबाड़ी के लिए भवन की आवश्यकता होने पर स्कूल भवन के अतिरिक्त कक्ष में आंगनबाड़ी संचालन करने के लिए निर्देशित किया गया। ग्राम पानबेहरा के अंकुर छात्रों को तरूण में अपग्रेड करने के लिए प्राथमिक शाला ठेसका के प्राथमिक शिक्षक दिनेश लिल्होरे को एक माह तक प्राथमिक शाला पानबेहरा में अध्यापन कार्य हेतु निर्देशित किया गया।

अधीक्षक और भृत्य पर गिरी गाज

ग्राम मोरूढाना में सड़क निर्माण की मांग पर सुदूर सड़क योजनांतर्गत प्राक्कलन तैयार करने के उपयंत्री को निर्देश दिए गए। यहां राशन के लिए पानबेहरा की शासकीय उचित मूल्य की राशन दुकान से गांव को संबद्ध किया गया। कर्त्तव्यों के निर्वहन में लापरवाही की शिकायत मिलने पर ग्राम के बालक आश्रम के अधीक्षक (प्राथमिक शिक्षक) विमल खात्रीकर एवं भृत्य गेंदराव पाटनकर को भी निलंबित किया गया। ग्राम में ट्रांसफार्मर बंद पाए जाने पर उचित कार्रवाई के लिए विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए। साथ ही आंगनबाड़ी केन्द्रों में टीएचआर वितरण में अनियमितता की शिकायत मिलने पर जांच करने के जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी को निर्देश दिए गए।

एनीमिक बच्चों की स्क्रीनिंग के निर्देश

ग्राम टेमुरनी में अंकुर अभियान में अपेक्षित प्रगति लाने के लिए अन्यत्र स्थान से शिक्षक संबद्ध करने के निर्देश दिए गए। ग्राम हिड़ली में हाट-बाजार को अन्यंत्र स्थान पर लगाने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के लिए कहा गया। यहां प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत सड़क निर्माण में लापरवाही की शिकायत मिलने पर संबंधित ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने की कार्रवाई करने के लिए कहा गया। ग्रामीणों की मांग पर इस ग्राम मेंं बैराज निर्माण के लिए विशेष प्रस्ताव तैयार करने के जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिए गए। इसी ग्राम मेें सीएम राइज स्कूल के भवन की बाउण्ड्रीवाल निर्माण में गुणवत्ता का अभाव पाए जाने पर जांच किए जाने एवं बाउण्ड्रीवाल का पुनर्निर्माण किए जाने के लिए भी कलेक्टर ने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को निर्देश दिए।

ऐनखेड़ा में प्राथमिक शाला का निरीक्षण

कलेक्टर श्री बैंस ने ग्राम संवाद के दौरान शासकीय प्राथमिक शाला ऐनखेड़ा का निरीक्षण किया। उन्होंने शैक्षणिक गुणवत्ता, एनीमिया स्क्रीनिंग एवं मध्यान्ह भोजन वितरण व्यवस्थाओं की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने विद्यार्थियों से भी चर्चा की। इसी तरह ग्राम गोंड़ीघोघरा में चौपाल लेकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं एवं योजनाओं से मिल रहे लाभों का फीडबैक लिया। भ्रमण के दौरान कलेक्टर ने गोंडीघोघरा में अमृत सरोवर का भी अवलोकन किया।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker