Farmer leader Rakesh Tikait : किसान नेता राकेश टिकैत के नेतृत्व में निकला मशाल जुलूस, किसान स्तंभ पर पहुंचकर दी श्रद्धांजलि

▪️ विजय सावरकर, मुलताई
बीते 12 जनवरी 1998 को मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में स्थित मुलताई के तहसील कार्यालय परिसर में किसान आंदोलन (peasant movement multai) के दौरान पुलिस गोली चालन में 24 किसानों की मृत्यु (24 farmers died) हुई थी। इन दिवंगत किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए गुरुवार को किसान संघर्ष समिति (Kisan Sangharsh Samiti) द्वारा 25 वें शहीद किसान स्मृति सम्मेलन (Martyr Kisan Memorial Conference) का आयोजन किया जा रहा है।

बुधवार रात 8 बजे संयुक्त किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत के नेतृत्व में किसान संघर्ष समिति के कार्यकर्ताओं ने रेलवे स्टेशन रोड पर स्थित समिति के कार्यालय से मशाल जुलूस निकाला और नारेबाजी करते हुए बस स्टैंड के सामने स्थित किसान स्तंभ पर पहुंचे। जहां किसान आंदोलन के दौरान गोली चालन में मारे गए किसानों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

डॉ. सुनीलम (Dr. Sunilam) ने बताया कि गुरुवार को नगर के ताप्ती मैरिज लान में 25 वां शहीद किसान स्मृति सम्मेलन एवं 301 वीं किसान महापंचायत का कार्यक्रम किसान संघर्ष समिति के वरिष्ठ किसान नेता प्रेमचंद मालवीय की अध्यक्षता में किया जाएगा। श्रद्धांजलि कार्यक्रम में भाग लेने संयुक्त किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत सहित प्रदेश के किसान संगठनों के प्रतिनिधि मुलतापी पहुंच चुके हैं।

इन कार्यक्रमों का होगा आयोजन

पुलिस गोली चालन की 25 वीं बरसी पर गुरुवार को सुबह 9 बजे ग्राम परमंडल में शहीद किसान स्तंभ एवं शहीद मनोज चौरे की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के पश्चात सुबह 10 बजे परमंडल से मुलतापी तक मोटर साइकिल रैली निकलेंगी। सुबह 10.30 बजे बस स्टैंड के सामने स्थित किसान स्तंभ पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम,के बाद सुबह 11 बजे किसान नेता राकेश टिकैत मां ताप्ती मंदिर में दर्शन और गुरूद्वारा में पहुंचकर अरदास करेंगे।

दोपहर 12 बजे से पारेगांव रोड स्थित, ताप्ती लॉन में 25 वां शहीद किसान स्मृति सम्मेलन का शुभारंभ होगा। किसान नेता श्रीटिकैत सम्मेलन को संबोधित करने के बाद शाम मे नागपुर प्रस्थान करेंगे। डॉ सुनीलम ने बताया सम्मेलन में शहीद किसानों के परिवारों का सम्मान राकेश टिकैत द्वारा किया जाएगा। विद्या मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा 24 प्रतिभावान छात्राओं को पुरस्कृत किया जाएगा।

हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी मुलतापी घोषणा पत्र 2023 सम्मेलन में पारित किया जाएगा। उन्होंने बताया समिति द्वारा शहीद किसान स्मृति सम्मेलन के कार्यक्रम की तैयारियां पूरी हो चुकी है। शहीद किसानों को श्रद्धांजलि अर्पित करने सम्मेलन में देश भर से किसान नेता मुलताई पहुचेंगे।

Shree Ram Bhumi In Betul : मध्यप्रदेश के इस गांव में प्रभु श्री राम के नाम है 180 एकड़ जमीन, आस्था के चलते ग्रामीणों ने दी थी सालों पहले दान

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker