DRUCC meeting : डीआरयूसीसी की बैठक में छिंदवाड़ा-आमला मेमू ट्रेन को बैतूल तक चलाने और माल गोदाम शिफ्ट करने का मुद्दा उठा

Betul News : डीआरयूसीसी की 160वीं बैठक शुक्रवार को डीआरएम ऑफिस नागपुर में आयोजित की गई। इस बैठक में रेलवे सलाहकार समिति सदस्य दीपक सलूजा एवं पियूष तिवारी ने 38 महत्वपूर्ण बिंदुओं से मंडल रेल प्रबंधक को अवगत कराया। इसके साथ ही उन्होंने पूर्व में दिए गए सुझाव के आधार पर किए गए कार्यों के लिए मंडल रेल प्रबंधक का आभार व्यक्त किया।

बैठक में रेलवे सलाहकार समिति के सदस्य दीपक सलूजा ने प्रमुख रूप से बैतूल रेलवे स्टेशन पर स्थित रेल माल गोदाम के पूर्ण रूप से शीघ्र अन्यत्र स्थान पर शिफ्ट करने की मांग पुरजोर तरीके से उठाई। उन्होंने बैठक में उपस्थित रेलवे अधिकारियों से आग्रह किया कि इस स्थान पर ट्रैफिक का अधिक दबाव होने के कारण हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। जिसके चलते रेल माल गोदाम अन्य जगह शिफ्ट किया जाना बेहद आवश्यक है।

उन्होंने बताया कि रेलवे गोदाम अन्य जगह शिफ्ट होने के बाद गंज क्षेत्र में आवागमन सुलभ हो जाएगा। यहां भारी वाहनों के दबाव से भी यात्रियों एवं वाहन चालकों को निजात मिलेगी। मंडल रेल प्रबंधक ने श्री सलूजा को आश्वस्त करते हुए बताया कि बैतूल गुड्स शेड को मरामझिरी स्थानांतरित करने के लिए पूर्ण रेक क्षमता एवं अन्य आवश्यक सुविधाओं के लिए इटारसी आमला तीसरी लाइन कार्य के साथ मरामझिरी गुड्स शेड के विकास कार्य भी नागपुर मंडल द्वारा प्रस्तावित किए गए हैं। समिति के अन्य सदस्य पीयूष तिवारी ने नागपुर मंडल के प्रमुख स्टेशनों पर परिचय फ्लेक्स लगाने, बैतूल रेलवे स्टेशन पर आगमन व प्रस्थान के द्वारा अलग-अलग किए जाने सहित अन्य सुझाव बैठक में रखें।

तो रामनगर की ओर बनेगा अंडरपास

सलाहकार समिति सदस्य दीपक सलूजा ने बैठक में और भी कई मुद्दों पर सुझाव दिए। उन्होंने बहुप्रतीक्षित रेलवे माल गोदाम से रामनगर की ओर अंडरपास बनाए जाने का मुद्दा बैठक में प्रमुखता से रखा। बैठक में उन्होंने बताया कि रेलवे माल गोदाम बैतूल से रामनगर की दूरी कम है, यहां से अंडरपास बनाए जाने से शहर वासियों को लंबी दूरी तय नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने बताया कि अंडरपास नहीं होने से रामनगर क्षेत्र अलग-थलग सा हो गया है।

रामनगर के लोगों को गंज कोठी बाजार जाने के लिए बडोरा ब्रिज सहित अंडर ब्रिज होकर आना पड़ता है इससे दोनों जगह यातायात का दबाव रहता है। इससे दुर्घटना की भी आशंका बनी रहती है। मंडल रेल प्रबंधक द्वारा इसके जवाब में कहा गया कि उपरोक्त ही स्थान पर आरयूबी प्रदान करने का कार्य डिपॉजिट बेसिस पर किया जा सकता है। राशि राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी और रेलवे द्वारा रेलवे सीमा में निष्पादित किया जाएगा।

इन कार्यों के लिए माना आभार

दीपू सलूजा ने रेलवे अंडर ब्रिज सुधार कार्य पूर्ण करने, रेलवे स्टेशन पर नया राष्ट्रीय ध्वज, लिफ्ट सुधार, रेलवे कैंपस का गड्ढा भराव करने के लिए मंडल रेल प्रबंधक का आभार व्यक्त किया। श्री सलूजा ने बताया कि इन कार्यों के साथ ही उन्होंने बैतूल रेलवे स्टेशन पर सुलभ शौचालय की मांग की थी जल्द ही स्टेशन पर सुलभ शौचालय भी शुरू किया जाएगा।

इसके साथ ही उन्होंने छिंदवाड़ा आमला मेमू ट्रेन को बैतूल तक चलाए जाने, सदर रेलवे गेट को पुन: प्रारंभ करने, काचीगुड़ा एक्सप्रेस नरखेड में खड़ी रहती है उसे बैतूल तक चलाए जाने, शाहपुर चोपना मार्ग पर अंडरब्रिज निर्माण करने मुलताई खेड़ली बाजार मार्ग पर स्थित रेलवे गेट के स्थान पर ओवरब्रिज, पूर्व की भांति बरबतपुर स्टेशन पर पंचवेली एक्सप्रेस का स्टॉपेज, बैतूल रेलवे स्टेशन पर बाउंड्री वॉल के अधूरे कार्य को पूर्ण करने, दादा धाम एक्सप्रेस पुन: शुरू करने की मांग भी उठाई।

इसके अलावा विभिन्न स्टेशनों पर ट्रेनों का स्टॉपेज, इंदिरा कॉलोनी बैतूल गंज के नागरिकों को पुल ना होने के कारण 2 किलोमीटर घूमकर अंडर ब्रिज पर आना पड़ता है इसलिए रेलवे की भूमि पर एक छोटी पुलिया का निर्माण किए जाने, अंडर ब्रिज पर उचित विद्युत व्यवस्था करने, बैतूल में भी रेलवे कोर्ट, रेलवे कैंपस में ट्रक की पार्किंग बंद करने, एटीवीएम मशीन को रामनगर तरफ लगाने, दो नंबर प्लेटफार्म तरफ की रैंप को रामनगर तक बढ़ाने सहित अन्य सुझाव दिए गए। रेलवे द्वारा इन सुझावों पर चर्चा करते हुए उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया गया।

Share Market Tips: कहीं डूब ना जाए शेयर मार्केट में पैसा, इस Online Tool से पहले ही लगा लें खतरे का अंदाजा

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker