Aadhar Card Update: UIDAI ने दी बड़ी सौगात, अब बगैर दस्तावेजों के भी कराया जा सकेगा आधार में दर्ज पते में सुधार

Aadhar Card Update: UIDAI ने दी बड़ी सौगात, अब बगैर दस्तावेजों के भी कराया जा सकेगा आधार में दर्ज पते में सुधार

Aadhar Card Update: भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने देश के करोड़ों लोगों को नए साल पर एक बड़ी सौगात दी है। इसके तहत जिन लोगों के पास खुद का पता संबंधी कोई दस्तावेज नहीं है, वे भी अब अपने आधार कार्ड में दर्ज पते में आवश्यक सुधार करवा सकेंगे। इसके लिए UIDAI ने एक नई सुविधा पेश की है। इस सुविधा के शुरू होने से करोड़ों लोग लाभान्वित हो सकेंगे।

UIDAI द्वारा अब घर के मुखिया (HOF) की सहमति से आधार में दर्ज पते में ऑनलाइन सुधार करने की सुविधा शुरू की गई है। आधार में एचओएफ आधारित ऑनलाइन पते में सुधार की सुविधा (Online Address Correction Facility) से बच्चों, जीवनसाथी, अभिभावकों आदि ऐसे संबंधियों को काफी सहायता मिलेगी, जिनके पास अपने नाम पर दस्तावेज नहीं होते हैं।

एचओएफ का यह दस्तावेज लगेगा (Aadhar Card Update)

इस नई सुविधा से आधार में दर्ज पते में सुधार कराने के लिए राशन कार्ड, मार्कशीट, विवाह प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आदि संबंध के प्रमाण से जुड़ा कोई दस्तावेज जमा करना होगा, जिनमें आवेदक और एचओएफ का नाम और उनके बीच के संबंध का उल्लेख है।

इसके लिए एचओएफ को ओटीपी के जरिये प्रमाणित करना होगा। संबंध के प्रमाण से जुड़ा दस्तावेज उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में, UIDAI के द्वारा सुझाए गए प्रारूप में एचओएफ को एक स्व-घोषणा UIDAI के पास जमा करनी होती है।

इन लोगों के लिए बेहद लाभप्रद

यह सुविध्णा सुविधा देश के उन लाखों लोगों के लिए लाभकारी होगी जो देश के भीतर विभिन्न वजहों से शहरों और कस्बों को पलायन करते हैं। यह विकल्प UIDAI द्वारा निर्धारित किसी भी वैध पते के प्रमाण का उपयोग करते हुए मौजूदा पते में सुधार की सुविधा के अतिरिक्त होगा।

18 वर्ष से अधिक उम्र का कोई भी निवासी इस उद्देश्य के लिए एक एचओएफ हो सकता है और इस प्रक्रिया के माध्यम से अपने रिश्तेदारों के साथ अपना पता साझा कर सकता है।

ऐसे कर सकेंगे ऑनलाइन आवेदन (Aadhar Card Update)

‘माई आधार’ पोर्टल (https://myaadhaar.uidai.gov.in) में एक नागरिक पते में ऑनलाइन सुधार करते समय इस विकल्प को चुन सकता है। इसके बाद, निवासी को एचओएफ की आधार संख्या दर्ज करने की अनुमति दी जाएगी, जिसकी सिर्फ पुष्टि करनी होगी। एचओएफ की पर्याप्त गोपनीयता बनाए रखने के लिए एचओएफ के आधार की कोई अन्य जानकारी स्क्रीन पर प्रदर्शित नहीं की जाएगी।

एचओएफ की आधार संख्या की सफलतापूर्वक पुष्टि होने के बाद, नागरिक को संबंध के प्रमाण से जुड़ा दस्तावेज अपलोड करने की जरूरत होगी। (Aadhar Card Update)

इतने दिनों में देना होगा सहमति

इस सेवा के लिए 50 रुपये शुल्क का भुगतान करना होगा। सफल भुगतान पर, नागरिक के साथ एक सेवा अनुरोध संख्या (SRN) साझा की जाएगी और पते के अनुरोध से जुड़ा एक SMS एचओएफ को भेजा जाएगा।

एचओएफ को सूचना प्राप्त होने की तारीख से 30 दिन के भीतर माई आधार पोर्टल (My Aadhaar Portal) में लॉग इन करके अपनी सहमति देनी होगी और इसके बाद अनुरोध पर कोई कार्यवाही की जाएगी। यदि एचओएफ अपना पता साझा करने से इनकार कर देता है या एसआरएन जारी होने के 30 दिन के भीतर उसे स्वीकार या इनकार नहीं करता है तो अनुरोध को बंद कर दिया जाएगा।

स्वीकृति नहीं मिलने पर अस्वीकार

इस विकल्प के माध्यम से पता अपडेट करने की कोशिश करने वाले नागरिक को एक एसएमएस के माध्यम से अनुरोध के बंद होने के बारे में सूचित कर दिया जाएगा। यदि अनुरोध बंद हो जाता है या एचओएफ की स्वीकृति नहीं मिलने के कारण अस्वीकार कर दिया जाता है या प्रक्रिया के दौरान अस्वीकार कर दिया जाता है, तो आवेदक को धनराशि वापस नहीं की जाएगी।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker