Pradeep Mishra Katha : अब शिवधाम कोसमी में की जाएगी धर्म ध्वजा पुनर्स्थापित, 3 दिसंबर को निकलेगी शोभायात्रा, शहर में भी करेगी भ्रमण

किलेदार गार्डन में पूर्व में की जा चुकी थी विधिवत धर्म ध्वज की स्थापना.

Pradeep Mishra Katha Betul : आगामी 12 से 18 दिसंबर तक मध्यप्रदेश के बैतूल में ताप्ती शिवपुराण की कथा विश्वप्रसिद्ध कथाकार पं. प्रदीप मिश्रा के मुखारबिंद से होने जा रही है। यह आयोजन पहले राजा ठाकुर की बडोरा स्थित भूमि पर होना तय था। वहां पर कथा हेतु शंकर भगवान की ध्वजा स्थापना व पूजा भी हो गई थी। बैतूल के हजारों नागरिकों के आवेदन-निवेदन व संघर्ष के बाद भी बडोरा में कथा की अनुमति नहीं मिल पाई। हालांकि वहां शिवजी का ध्वज स्थापित कर दिया गया था। अब कथा का स्थान बडोरा की जगह कोसमी हो गया है। इसलिए अब 3 दिसंबर शनिवार को धर्मध्वजा कोसमी में पुनर्स्थापित होगी।

मां ताप्ती शिवपुराण कथा समिति द्वारा 3 दिसंबर शनिवार को बडोरा से शंकर भगवान की ध्वजा को निकालकर शोभायात्रा के साथ कोसमी स्थानांतरित किया जाएगा। नगर के सभी धर्मप्रेमी बंधुओं से अनुरोध किया गया है कि इस धर्मध्वजा की यात्रा में अधिक से अधिक संख्या में सम्मिलित होकर पुण्य लाभ प्राप्त करें।

यात्रा मार्ग के संबंध में समिति के द्वारा बताया गया कि यात्रा किलेदार गार्डन, बडोरा चौक, ओवरब्रिज, गेंदा चौक, कारगिल चौक, मैकेनिक चौक, कांतिशिवा चौक पहुंचेगी। यहां से सभी पैदल स्टेशन के सामने से होते हुए दिलबहार चौक होते हुए बीजासनी माता मंदिर पर पूजन किया जाएगा। बीजासनी मंदिर से सभी पुन: वाहनों में सवार होकर प्रमोद अग्रवाल निवास के सामने से, कल्पना स्टोर्स, कपूर इलेक्ट्रॉनिक, शिवाजी चौक, मुल्ला पेट्रोल पंप, बस स्टैंड होते हुए लल्ली चौक, गांधी चौक, थाना चौक, टिकारी के अखाड़ा हनुमान मंदिर पहुंचेंगे।

यहां पूजा-अर्चना के बाद गाड़ाघाट रोड, एचएमटी फैक्ट्री इटारसी रोड के पास से सीधे कोसमी फोरलेन स्थित कथास्थल पहुंचेगे। दोपहर 3 बजे शिवधाम कथास्थल कोसमी फोरलेन पर पूजन पाठ और भगवान भोलेनाथ की आरती प्रसादी वितरण के साथ कार्यक्रम का समापन होगा। समिति ने अधिक से अधिक संख्या में धर्म ध्वजा की पुनर्स्थापना कार्यक्रम और शोभायात्रा में शामिल होने का आह्वान किया है।

Pandit Pradeep Mishra: मन के साथ तन का भी उपचार होगा कथास्थल पर, पंडित प्रदीप मिश्रा की कथा होगी 12 से 18 दिसम्बर तक

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker