PM Kisan Samman Nidhi : इतने किसानों ने अभी तक नहीं कराई ई-केवाईसी, इसके बगैर नहीं मिलेगी अगली किश्त, राशि पाने जल्द करा लें यह काम

Kisan Samman Nidhi: So many farmers have not done e-KYC yet, without this they will not get the next installment, get the amount done soon

if pm kisan samman nidhi 8 installment not credited in account you can call on these 3 helpline numbers uppm | यूपी के किसान ध्यान दें! नहीं आई है PM Kisan की

PM Kisan Samman Nidhi : किसानों को आर्थिक सहयोग और मजबूती प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा उन्हें किसान सम्मान निधि प्रदान की जाती है। यह राशि नियमित प्राप्त होती रहे, इसके लिए कुछ औपचारिकताएं भी पूरी करना होता है। इन औपचारिकताओं में ई-केवाईसी प्रमुख रूप से शामिल है। ई-केवाईसी करवाने के लिए सरकार द्वारा बार-बार कहा भी जाता है। बावजूद इसके कई किसान ई-केवाईसी नहीं करवाते हैं। अब यह उदासीनता भारी पड़ जाएगी, क्योंकि यदि किसानों ने ई-केवाईसी नहीं कराई तो उन्हें किसान सम्मान निधि की अगली किश्त मिलेगी ही नहीं।

मध्यप्रदेश के बैतूल जिले (Betul District In MP) में ही अभी तक 27 हजार 721 किसानों ने ई-केवायसी नहीं करवाई है। बैतूल जिले में 2 लाख 36 हजार 257 किसान सम्मान निधि के लिए पात्र हैं। इनमें से वर्तमान में 2 लाख 8 हजार 536 किसानों ने ई-केवायसी करवा ली है। इसके विपरीत 27 हजार 721 किसान ऐसे हैं, जिन्होंने ई-केवायसी नहीं करवाई है। भू अभिलेख अधीक्षक एसके नागू के मुताबिक भैंसदेही और भीमपुर ब्लॉक के सबसे अधिक किसानों ने ई-केवायसी नहीं करवाई है। इन दोनों ब्लॉकों में ही 6 हजार 489 किसानों को ई-केवायसी करवाना है।

इसके अलावा आमला ब्लॉक के 3 हजार 396, आठनेर की ब्लॉक के 2 हजार 162, बैतूल ब्लॉक के 3 हजार 578, चिचोली ब्लॉक के 2 हजार 196, घोड़ाडोंगरी ब्लॉक के 3 हजार 424, मुलताई व प्रभातपट्टन ब्लॉक के 4 हजार 132 तथा शाहपुर ब्लॉक के 2 हजार 344 किसानों ने ई-केवायसी नहीं करवाई है। उन्होंने बताया किसानों को सम्मान निधि के लिए ई-केवायसी करवाना जरूरी है। उन्होंने किसानों से जल्द से जल्द ई-केवायसी करवाने का आग्रह किया है। अगर किसानों द्वारा यह प्रक्रिया नहीं की जाती है तो उनकी सम्मान निधि रुक जाएगी।

किसान इस तरह करा सकते हैं E-KYC 

स्‍मार्टफोन से करें E-KYC (PM Kisan Samman Nidhi )

घर बैठे स्‍मार्टफोन से भी किसान पीएम किसान के लिए अनिवार्य ई-केवाईसी पूरी कर सकते हैं. इसके लिए जरूरी है किसान का मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक्‍ड हो. ऐसा होना इसलिए जरूरी है क्‍योंकि रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर ही ओटीपी आएगी, जिससे ई-केवाईसी प्रक्रिया पूरी होगी।

  • पीएम किसान वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • फिर ‘फार्मर्स कॉर्नर’ के तहत e-KYC टैब पर क्लिक करें।
  • जो पेज खुलेगा, वहां आधार नंबर की जानकारी देकर सर्च टैब पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा।
  • फिर सबमिट ओटीपी पर क्लिक करें और ओटीपी डालकर सबमिट करें।
  • आपकी ईकेवाईसी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

CSC पर जाकर भी करा सकते हैं ई-केवाईसी PM Kisan Samman Nidhi

कॉमन सर्विस सेंटर पर पीएम किसान के लाभार्थी किसान की बायोमेट्रिक तरीके से ई-केवाईसी की जा रही है। किसान के आधार कार्ड और रजिस्‍ट्रर्ड मोबाइल नंबर की जरूरत भी कॉमन सर्विस सेंटर पर इस काम के लिए पड़ती है। कॉमन सर्विस सेंटर पर ई-केवाईसी के लिए 17 रुपये फीस (PM Kisan E-KYC Fee) लगती है। इनके अलावा सीएससी संचालक भी 10 रुपये से लेकर 20 रुपये तक सर्विस चार्ज लेते हैं। इस तरह सीएससी से ईकेवाईसी कराने पर आपको 37 रुपये तक देने पड़ सकते हैं।

Dadi ka video: दादी का स्‍वैैग ! पोते के इस सवाल पर दादी ने कर दी घनघोर बेेइज्‍जती, जवाब सुनकर हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप

Get real time updates directly on you device, subscribe now.