MP Farmer News: रबी सीजन में सिंचाई के लिए अस्थाई कनेक्शन लेने पर इतना देना होगा शुल्क, कोई ज्यादा पैसे मांगे तो यहां करें संपर्क

MP Farmer News | Temporary Connection Charge: मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा कंपनी कार्यक्षेत्र के भोपाल, नर्मदापुरम, चंबल एवं ग्वालियर संभाग के 16 जिलों के अंतर्गत कृषक उपभोक्ताओं को रबी सीजन में निर्बाध एवं गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करते हुए 8 हजार 642 अस्थाई कृषि पम्प कनेक्शन दिये हैं। कंपनी द्वारा भोपाल रीजन में 7 हजार 348 एवं ग्वालियर रीजन में एक हजार 294 अस्थाई कृषि पम्प कनेक्शन दिये गए हैं।

गौरतलब है कि ग्रामीण क्षेत्र के कृषि उपभोक्ताओं को राज्य शासन द्वारा दी जा रही सब्सिडी घटाने के बाद थ्री फेज तीन हार्स पावर के अस्थाई पम्प कनेक्शन के लिए तीन माह के लिए 5 हजार 254 रूपये, चार माह के लिए 6 हजार 892 एवं पाँच माह के लिए 8 हजार 530 रूपये देय होंगे। पाँच हार्स पावर अस्थाई पम्प कनेक्शन के लिए तीन माह के लिए रू. 8 हजार 530 रूपये, चार माह के लिए 11 हजार 260 एवं पाँच माह के लिए 13 हजार 990 रूपये तथा साढे सात से आठ हार्स पावर अस्थाई पम्प कनेक्शन के लिए तीन माह के लिए 13 हजार 444, चार माह के लिए 17 हजार 812 एवं पाँच माह के लिए 22 हजार 180 रूपये देय होंगे। थ्री फेज दस हार्स पावर अस्थाई पम्प कनेक्शन के लिए ग्रामीण क्षेत्र के कृषि उपभोक्ताओं को तीन माह के लिए 16 हजार 720 रूपये, चार माह के लिए 22 हजार 180 रूपये एवं पाँच माह के लिए 27 हजार 640 रूपये देय होंगे।

कंपनी ने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्र के कृषि उपभोक्ताओं के लिए अस्थाई पम्प कनेक्शन की दरें एक अक्टूबर 2022 से लागू हैं। उपभोक्ताओं को इन्हीं दरों पर अस्थाई पम्प कनेक्शन दिये जा रहे हैं। कंपनी ने बताया है कि उचित रेटिंग का कैपेसिटर लगा होने पर कैपेसिटर सरचार्ज देय नहीं होगा एवं उपभोक्ताओं को अस्थाई पम्प कनेक्शन के लिए न्यूनतम तीन माह का अग्रिम भुगतान अनिवार्य होगा।

कंपनी ने उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे अस्थाई कनेक्शन के लिए बिल राशि का भुगतान अधिकृत पीओएस मशीन के माध्यम से ही करें एवं भुगतान की रसीद अवश्य प्राप्त करें। अस्थाई कनेक्शनों की दरों के संबंध में अधिक जानकारी के लिए उपभोक्ता कंपनी के काल सेन्टर 1912, वेबसाइट portal.mpcz.in अथवा नजदीकी बिजली कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं।

बिजली संबंधी शिकायतों के निराकरण के लिए तय की समय सीमा 

उपभोक्ताओं को जोन एवं वितरण केन्द्र में बिजली बिल संबंधी तथा अन्य शिकायतों के निराकरण में आ रही परेशानियों को देखते हुए कंपनी द्वारा उपभोक्ता की शिकायत के निवारण की प्रक्रिया निर्धारित की गई है। कंपनी द्वारा उपभोक्ताओं की शिकायतों का व्यवस्थित लेखा-जोखा, वास्तविक स्थिति एवं अधिक राशि के बिल सुधार में आने वाली अनावश्यक परेशानी से उपभोक्ताओं को बचाने की दृष्टि से प्रक्रिया निर्धारित है।

शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया| MP Farmer News

  • उपभोक्ता कंपनी के केन्द्रीयकृत कॉल सेन्टर 1912 पर अपनी शिकायत दर्ज कर, शिकायत नंबर अवश्य प्राप्त करें। शिकायत नंबर अनिवार्य है।
  • यदि उपभोक्ता को कॉल सेन्टर 1912 पर शिकायत दर्ज करने में किसी प्रकार दिक्कत आती है, तो उनकी सुविधा के लिए प्रत्येक जोन एवं वितरण केन्द्र में पृथक-पृथक संपर्क आईडी बनाई गई है।
  • जोन एवं वितरण केन्द्र में कार्यरत बिजली कार्मिक संपर्क आईडी का उपयोग कर आई-संपर्क पोर्टल पर लॉगइन कर उपभोक्ता की शिकायतों की प्रविष्टि करेंगे।
  • जोन एवं वितरण केन्द्र के कार्यालय सहायक, सहायक प्रबंधक और प्रबंधक द्वारा बिल का सुधार अंकित किया जाएगा। संभागीय कार्यालय के उप महाप्रबंधक (शहर/संचारण-संधारण) द्वारा जाँच कर अनुशंसा के साथ महाप्रबंधक (शहर/संचारण-संधारण) को भेजा जाएगा।
  • जॉच एवं अनुशंसा को देखते हुए महाप्रबंधक (शहर/संचारण-संधारण) द्वारा बिजली बिल के सुधार के लिए अनुमति दी जाएगी।
  • शिकायत निवारण की पूरी प्रक्रिया के लिए प्रत्येक स्तर पर 7 दिवस की समय-सीमा निर्धारित है।
  • Also Read: Anjali Arora Viral Video: अंजली अरोड़ा का ये वीडियो हो रहा वायरल, देखें ऐसा क्या है कि हर जगह हो रही इसकी चर्चा…

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker