एमपी का अजब गजब मामला : प्रशासन ने किया लापरवाही पर शिक्षक को निलंबित तो उसने स्कूल में ही जड़ दिया ताला

school me lagaya tala : Wonderful case of MP: Administration suspended the teacher for negligence, then he locked it in the school itself

▪️ श्याम यादव, नांदा (भीमपुर)

मध्यप्रदेश के बैतूल जिले से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां के भीमपुर ब्लॉक में एक शिक्षक को कुछ दिन पहले निलंबित (teacher suspended) किया गया था। शनिवार को यह शिक्षक स्कूल पहुंचा और बच्चों को स्कूल से भगाकर स्कूल में ही ताला (lock in school) जड़ दिया। बच्चों ने घर पहुंच कर यह जानकारी पालकों को दी। इस पर उन्होंने अधिकारियों को सूचना दी। वहीं बच्चों को लेकर पुलिस थाना मोहदा भी पहुंचे हैं।

घटना ग्राम जीरुढाना के आदिवासी प्राथमिक स्कूल रंजाढाना (primary school ranjadhana) की है। इस स्कूल केएक शिक्षक राजू चौहान को लेकर ग्रामीणों द्वारा पूर्व में पिपरिया में आयोजित सीएफटी बैठक (cft meeting) में शिकायत की थी कि वह शराब पीकर स्कूल आता है। शिकायत पर कलेक्टर ने राजू चौहान को सस्पेंड कर दिया गया था। पालकों ने बताया कि इस रंजिश को लेकर आज शिक्षक राजू अर्जुन पिता जद्दु, नानूराम पिता दामजी, पिंटू पिता अमर सिंह को लेकर स्कूल पहुंचा। इन सभी ने दोपहर 12 बजे बच्चों को स्कूल से भगा दिया। इसके बाद स्कूल में ताला लगा दिया। इन्होंने बच्चों से गाली-गलौज भी की।

इससे खौफजदां बच्चे शिवचरण, पारस, साक्षी, मोनिका, आशीष, विशाल, मनीष, तुकाराम अपने घर पहुंचे और अपने पिता को घटना की जानकारी दी। यह सुनकर पालक स्कूल में पहुंचे तो स्कूल बंद मिला। इस पर पालकों ने बीईओ भीमपुर और सीएसी को सूचना दी। इसके साथ ही बच्चों को लेकर सूचना देने पुलिस थाना मोहदा पहुंचे। पालक संतोष, खेड़ी नन्नू और दिनेश ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। इस पर थाना प्रभारी रविकांत डेहरिया ने तत्काल पुलिस को रंजाढाना भिजवाया।

पुलिस ने निलंबित शिक्षक के साथ गए ग्रामीणों को थाने बुलवाया और पूछताछ की जा रही है। वहीं निलंबित शिक्षक नहीं मिला। मध्यान्ह भोजन योजना के तहत आज बच्चों को पराठा, मिक्स दाल और हरी सब्जी का भोजन मिलना था। इस घटना के चलते बच्चे भोजन से भी वंचित रह गए। वे शाला से भूखे ही घर लौटने को मजबूर हुए।

इनका कहना है…

इस संबंध में सूचना मिलने पर मैंने सीएसी रमेशचंद्र पवार संकुल पिपरिया को मौके के लिए प्राथमिक शाला रंजाढाना भिजवाया है। घटना की जानकारी मिलने पर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

रमेश कौशिक, बीईओ, भीमपुर

कॉलेज जाने का कहकर निकली दो युवतियां गायब 

बैतूल जिले के भैंसदेही क्षेत्र की दो युवतियां कॉलेज जाने का घर से निकली थीं, लेकिन वापस घर नहीं पहुंची। परिजनों की सूचना पर पुलिस ने जांच की तो खुलासा हुआ है कि वहीं के एक टैक्सी चालक ने दोनों युवतियों को भैंसदेही के एक युवक के साथ नागपुर एयरपोर्ट तक छोड़ा था। इसके बाद से उनका मोबाईल स्विच ऑफ आ रहा है। इसलिए पुलिस को लोकेशन नहीं मिल पा रही है।

पुलिस के अनुसार भैंसदेही की दो युवतियां कल घर से कॉलेज जाने के लिए निकली थी। वापस नहीं आने पर परिजनों ने तलाश की, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। इसके बाद थाने में गुमशुदी दर्ज कराई। पुलिस ने जानकारी जुटाई तो यह बात सामने आई कि जामझिरी का रहने वाला टैक्सी ड्रायवर सुधीर वाड़िवा दोनों युवतियों और भैंसदेही के एक युवक को टैक्सी से नागपुर एयरपोर्ट तक छोड़ने गया था।

टैक्सी चालक की जानकारी के आधार पर आगे मामले की जांच की जा रही है। जानकारी मिली है कि युवक मुंबई में जॉब करता है। संभावना जताई जा रही है कि जॉब के नाम पर ही युवक दोनों युवतियों को मुंबई लेकर गया है। इधर पुलिस का कहना है कि मोबाइल बंद होने से लोकेशन नहीं मिल रही है। लोकेशन मिलते ही टीम रवाना की जाएगी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.