MP Police: पुलिस ने फिर दिखाई संवेदनशीलता, शव को कंधे पर रखकर पहुंचाया अस्पताल, घटनास्थल तक नहीं पहुंच सकते थे वाहन

Police again showed sensitivity, carried the dead body to the hospital, vehicles could not reach the spot

एमपी पुलिस का मानवीय चेहरा बुजुर्ग का शव 1 किमी कंधे पर लेकर चले  | Betulupdate

MP Police: पुलिस को लेकर लोगों के मन में चाहे जो भी छवि हो, लेकिन समय-समय पर पुलिस ऐसे काम भी करती है, जिससे यह साबित होता है कि वर्दी के भीतर भी दिल होता है। शुक्रवार को भी मध्‍यप्रदेश की बैतूल पुलिस (Betul Police) ने संवेदनशीलता दिखाते हुए ऐसा ही एक काम किया। डैम में डूबे एक शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल तक पहुंचाना था। समस्या यह थी कि वहां तक वाहन नहीं पहुंच सकता था। ऐसे में एक खाट (खटिया) की व्यवस्था की गई। उस पर शव को लिटाया गया। फिर यह खटिया ग्रामीणों के साथ पुलिस कर्मियों ने भी अपने कंधों पर उठाई और मुख्य मार्ग तक शव को लाया गया। इसके बाद यहां से शव को अस्पताल ले जाया गया। पुलिस के इस कार्य की सर्वत्र प्रशंसा हो रही है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक आज 30 सितंबर को पुलिस को सूचना मिली थी कि ग्राम कुप्पा में एक वृद्ध व्यक्ति का शव कुप्पा डैम (kuppa dam) में दिखाई दे रहा है। सूचना तस्दीक पर तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर उनसे प्राप्त निर्देशन में पाढर चौकी (Padhar Police chouki) प्रभारी रवि ठाकुर, हमराह स्टाफ हेड कांस्टेबल ज्ञानसिंग और कांस्टेबल जितेन्द्र मौर्य द्वारा मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण किया गया। मृतक की पहचान सम्मु पिता मजोली ककोडिया उम्र 70 साल निवासी कुप्पा के रूप में की गई। मृतक की पंचनामा कार्यवाही की गई।

यहां देखे वीडियो

इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचाना था। समस्या यह थी कि घटनास्थल दुर्गम था और नदी नाले होने से वाहनों की आवाजाही संभव नहीं थी। यह देखते हुए पुलिस ने पूरी संवेदनशीलता दिखाई। एक खटिया बुलाई गई। इस खटिया पर शव को रखा गया। इसके बाद चौकी प्रभारी, स्टाफ व परिजन मृतक के शव को खटिया पर रखकर कंधे के सहारे नदी-नाले एवं दुर्गम मार्ग से पैदल चलकर मुख्य मार्ग तक लाए। इसके बाद प्राइवेट वाहन से शव को जिला अस्पताल लाकर अग्रिम कार्यवाही की गई है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.