nadi me baha yuvak : उफनती नदी पार कर रहा एक और युवक बाढ़ में बहा, बाल-बाल बचा उसका साथी, अस्पताल में कराया भर्ती

Another young man crossing the raging river got swept away in the flood, his companion narrowly saved, admitted to the hospital

▪️ निखिल सोनी, आठनेर
इस साल जिले में लगातार भारी बारिश हो रही है। यही कारण है कि नदी और नालों की बाढ़ में बहने की घटनाएं भी लगातार हो रही हैं। इसके बावजूद ना तो लोग सुधर रहे हैं और ना ही इन पर शासन-प्रशासन सख्ती से रोक लगाने में कोई गंभीरता दिखा रहा है। यही कारण है कि लगातार ऐसी घटनाएं हो रही हैं। जिले के आठनेर ब्लॉक में बुधवार को एक और युवक बह गया। जबकि उसका साथी बाल-बाल बचा। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक आठनेर-धनोरा-पारसडोह मार्ग पर स्थित ठानी गांव के समीप यह घटना हुई। यहां दो युवक पुलिया पार करते समय बाढ़ में बह गए। इनमें से एक तो किसी तरह बच गया, लेकिन दूसरा बह गया। बहने वाला युवक ग्राम जावरा का कुंडलिक दरवाई बताया जा रहा है। यह हादसा जिस नदी पर हुआ उसे मरघट की नदी कहा जाता है। बताते हैं कि वहां मौजूद लोगों ने उन्हें रोकने की कोशिश भी की, लेकिन वे नहीं माने। देखें वीडियो…

सूचना मिलने पर आठनेर थाना प्रभारी अजय सोनी टीम सहित मौके पर पहुंचे। पुलिस ने घायल युवक को उपचार हेतु आठनेर सीएचसी केन्द्र में लाया है। वहीं बहे युवक की तलाश की जा रही है। गौरतलब है कि इस बार बाढ़ में बहने से कई लोगों की जान जा चुकी है। इसके बावजूद लोग जरा भी सबक नहीं ले रहे हैं। वहीं दूसरी ओर शासन-प्रशासन भी सख्त कदम नहीं उठा रहा है। आदेश पर आदेश जरूर जारी हो रहे हैं, लेकिन मैदानी स्तर पर कहीं उनका पालन होता नजर नहीं आ रहा है।