cyber fraud : लड़कियों के अनजान नंबरों से हैलो और हाय डियर के मैसेज हैं बहुत बड़ा छलावा, इनसे रहे सतर्क, पुलिस ने किया आगाह

Messages of hello and hi dear from unknown numbers of girls are a big delusion, be alert from them, police warned

▪️ उत्तम मालवीय, बैतूल
cyber fraud : इन दिनों व्हाट्सएप पर अनजान नंबरों से हाय, हैलो और हाय डियर जैसे मैसेज रोजाना आ रहे हैं। इन नंबरों पर किसी सुंदर लड़की की डीपी लगी रहती है। साथ किसी लड़की का आकर्षक नाम भी डिसप्ले होता है। इन नंबरों से शुरूआत तो हाय, हैलो से होती है। यदि आपने किसी भी मैसेज का जवाब दिया तो सीधे ऐसा ऑफर मिलता है जिसमें अधिकांश लोग खुद पर काबू नहीं पा पाते। कुछ इसी तरह के हाल फेसबुक और इंस्टाग्राम पर भी है। इन सबको लेकर बैतूल पुलिस ने आम लोगों को आगाह किया है।

इस संबंध में एसपी सिमाला प्रसाद ने जानकारी दी है कि साइबर अपराधियों द्वारा आम लोगों को ठगने का एक नया तरीका इजाद किया गया है। जिसमें आरोपियों के द्वारा सुंदर लड़कियों की फोटो का इस्तेमाल करके फर्जी फेसबुक (fake facebook ID), इंस्टाग्राम (Instagram), व्हाट्सएप (Whatsapp) इत्यादि के माध्यम से लड़की बनकर दोस्ती (friendship as a girl) की जाती है। दोस्ती होने के पश्चात व्हाट्सएप नंबर का आदान प्रदान किया जाता है।

SP Simala Prasad

इसके बाद व्हाट्सएप पर मैसेज के जरिए बातों के दौरान सभी प्रकार की पारिवारिक, व्यक्तिगत, नौकरी पेशा, रिश्तेदारों, दोस्तों की जानकारी प्राप्त की जाती है। इतनी घनिष्ठता हो जाने पर आरोपियों द्वारा अश्लील बातों (obscene things) की शुरूआत कर दी जाती है। साथ ही अश्लील हरकतों के लिए उकसा कर वीडियो कॉल (Video call) के लिए कहा जाता है। वीडियो कॉल पर पीड़ितों को सुंदर लड़कियों वाली पोर्न वीडियो (porn videos) दिखाए जाते हैं।

जवाब में संबंधित व्यक्ति द्वारा भी कुछ न कुछ हरकतें की जाती है। आरोपी इसी का इंतजार कर रहे होते हैं। वे इस दौरान लोगों की नग्न अवस्था वाले या अश्लील वीडियो का स्क्रीन रिकॉर्ड (screen record of porn video) कर लेते हैं। उसके बाद आरोपियों के द्वारा रिकॉर्डेड वीडियो को पीड़ित को भेजकर वीडियो को सोशल मीडिया पर और दोस्तों व रिश्तेदारों में वायरल करने की धमकी (threat to go viral) देते हैं। इसके बदले वे तगड़ी रकम मांग कर ब्लैकमेल (blackmail) करते हैं।

दरअसल, आकर्षक प्रलोभन के चलते शुरूआत में तो लोग ज्यादा कुछ सोच ही नहीं पाते हैं। यही कारण है कि इनके छलावे में फंस कर वे बहुत कुछ कर डालते हैं। इधर एक बार वीडियो बन जाने पर आरोपियों के पास तगड़ा हथियार आ जाता है। ऐसे में कई लोग सामाजिक बदनामी से बचने के लिए उनकी डिमांड पूरी कर देते हैं। ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं वहीं कई मामले तो उजागर तक नहीं हो पाते।

इन्हीं बातों को देखते हुए और लोगों को इस नए तरह के साइबर फ्रॉड से बचाने पुलिस द्वारा लोगों को आगाह किया है। ताकि इनके झांसे में आकर लोग अपना मेहनत से कमाया पैसा इन पर बर्बाद करने से बच सके। इसके लिए पुलिस ने कुछ बिंदु भी सुझाए हैं। इन पर अमल कर ऐसे साइबर ठगों की करतूत से बचा जा सकता है।

इस तरह की ठगी से बचने यह सावधानियां बरतें

▪️ अनजान व्यक्तियों से फोन पर बात ना करें और न ही दोस्ती करें।
▪️ व्हाट्सअप, मैसेंजर या अन्य किसी माध्यम से वीडियो कॉल आने पर उसे ना उठायें, ना बात करें।
▪️ अगर किसी के साथ ऐसी घटना हो जाती है तो बताये गए खाते में पैसे ना ट्रांसफर करें बल्कि पुलिस को सूचना दें।
▪️ किसी भी अनजान व्यक्ति से आई फ्रेंड रिक्वेस्ट ना स्वीकारें।

@ यह खबर आपने पढ़ी लोकप्रिय समाचार वेबसाइट http://betulupdate.com पर…