बड़ी खबर : निर्वाचन कार्य में गंभीर लापरवाही, जो लड़ा ही नहीं चुनाव, उसे थमा दिया पंच पद पर विजेता का प्रमाण पत्र

Big news: Serious negligence in election work: The one who did not contest the election, handed over the winner's certificate to the post of Panch

नामांकन पत्र वापस लेने के बाद पंच पद पर विजेता के रूप में जारी प्रमाण पत्र।

◼️ अंकित सूर्यवंशी, आमला
बैतूल जिले में निर्वाचन जैसे अति महत्वपूर्ण कार्य में भी गंभीर लापरवाही बरते जाने का मामला उजागर हुआ है। यहां एक ऐसे व्यक्ति को भी निर्वाचन में लगे जिम्मेदार अधिकारियों ने विजेता का प्रमाण पत्र थमा दिया, जिसने वास्तव में चुनाव लड़ा ही नहीं। निर्वाचन जैसा महत्वपूर्ण कार्य भी हवा-हवाई अंदाज में किए जाने का यह मामला आमला जनपद पंचायत की हसलपुर पंचायत का है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हसलपुर ग्राम पंचायत के वार्ड नंबर 3 से पंच पद के लिए 2 प्रत्याशियों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किए थे। यहां से नेहरू उइके और अमित बलवंत के द्वारा नाम निर्देशन पत्र जमा किए गए थे। बाद में किन्हीं कारणों से नाम वापसी की आखरी तारीख के पूर्व ही अमित बलवंत द्वारा अपना नाम विधिवत चुनाव से वापस ले लिया गया था। ऐसे में नेहरू उइके इस वार्ड से निर्विरोध पंच निर्वाचित हो गए थे।

ग्राम पंचायत हसलपुर के सरपंच-पंचों की सूची में अंकित नाम।

इसके बावजूद अमित बलवंत उस समय आश्चर्यचकित रह गए जब जनपद पंचायत के कर्मचारी उनके घर पहुंचे। कर्मचारियों ने उन्हें एक प्रमाण पत्र दिया जिसमें कि उन्हें वार्ड नंबर 3 से निर्विरोध निर्वाचित बताया गया था। यह प्रमाण पत्र रिटर्निंग अधिकारी (पंचायत) आमला सुधीर कुमार जैन द्वारा हस्ताक्षरित था।

यह प्रमाण पत्र देख अमित बलवंत के आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा क्योंकि वे तो पहले ही अपनी उम्मीदवारी वापस ले चुके थे। इसके बाद अन्य प्रत्याशी नेहरू उइके निर्विरोध निर्वाचित हो चुके थे। यह जानकारी मिलने के बाद कर्मचारी हरकत में आए और उन्होंने अधिकारियों को जानकारी दी। यह पता चलने पर फिर नेहरू उइके का प्रमाण पत्र बनाया गया और मंगलवार को उन्हें प्रदान किया गया।

एसडीएम मुलताई द्वारा पंचों के लिए जारी सूचना पत्र भी अमित बलवंत के नाम से जारी हुआ है।

पंच के तौर पर पत्र भी हो गया जारी

यही नहीं आगामी 24 जुलाई को हसलपुर पंचायत में उप सरपंच के चयन हेतु ग्राम पंचायत का सम्मिलन होना है। इसके लिए सक्षम प्राधिकारी अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) मुलताई द्वारा सभी पंचों को पत्र भी जारी किया गया है। वार्ड नंबर 3 के पंच के रूप में अमित बलवंत को बाकायदा एसडीएम की ओर से पत्र भी जारी हुआ है।

प्रारूप 26-क में भी अमित विजेता

मध्यप्रदेश पंचायत निर्वाचन नियसम, 1995 के प्रारूप 26-क में पंचायत के सरपंच और सभी निर्वाचित पंचों की जानकारी होती है। हसलपुर पंचायत के सरपंच और 14 पंचों की जानकारी भी इस प्रारूप में प्रकाशित हुई थी। इसमें भी अनुक्रमांक 4 पर वार्ड 3 के पंच के रूप में अमित बलवंत का ही नाम है।

इनका प्रमाण पत्र टाइपिंग मिस्टेक से बन गया था, लेकिन उन्हें प्रदान नहीं किया गया था। इसके बाद दूसरा प्रमाण पत्र बनाकर वास्तविक विजयी प्रत्याशी को प्रदान कर दिया गया है। साथ ही प्रारूप 24 में भी सुधार कर दिया गया है।
राजनंदिनी शर्मा, एसडीएम, मुलताई