Pani me dooba railway track : पानी में डूबा रेलवे ट्रैक, इटारसी-होशंगाबाद में रोकी गईं ट्रेनें, नेशनल हाईवे भी घंटों रहा बंद

Railway track submerged in water, trains stopped in Itarsi-Hoshangabad, National Highway also remained closed for hours

▪️उत्तम मालवीय, बैतूल

Indian Railway : भारी बारिश का असर अब रेल यातायात पर भी पड़ गया है। कीरतगढ़-बैतूल सेक्शन (Kiratgarh-Betul section) में रेलवे ट्रैक पर पानी (water on railway track) आ जाने के कारण बैतूल आने वाली कई ट्रेनों को विभिन्न स्टेशनों पर रोक कर रखा गया है। कुछ ट्रेनों को डायवर्ट (divert some trains) किया है वहीं अन्य ट्रेनों को डायवर्ट किए जाने की संभावना जताई जा रही है। इसी तरह बैतूल-भोपाल नेशनल हाईवे (Betul-Bhopal National Highway) पर भी घंटों तक यातायात ठप रहा। इधर बैतूल में भी आज सुबह 8 बजे तक करीब 2 इंच बारिश हो चुकी है।

बीते कई दिनों से बैतूल के साथ ही आसपास के जिलों में भी भारी बारिश हो रही है। इससे बैतूल-भोपाल नेशनल हाईवे समेत कई प्रमुख मार्गों से घंटों तक आवाजाही ठप रह रही है। आज भारी बारिश का असर रेल यातायात पर भी पड़ गया है। बताया जाता है कि नर्मदापुरम जिले में रात से भारी बारिश के कारण कीरतगढ़-बैतूल सेक्शन में केसला के पास बारिश का पानी ट्रैक पर आ गया है।

इसके चलते पिछले कई घंटों से डाउन ट्रैक से यातायात ठप है। यही कारण है कि ट्रेन नंबर 22692 निजामुद्दीन-बेंगलुरु राजधानी एक्सप्रेस को सुबह 5.40 बजे से जुझारपुर स्टेशन पर खड़ा किया गया है। जीटी एक्सप्रेस सुबह 6.30बजे से होशंगाबाद स्टेशन पर खड़ी थी। पटना एक्सप्रेस कीरतगढ़ में और लखनऊ-चेन्नई जयंती एक्सप्रेस को इटारसी स्टेशन पर रोक कर रखा है। बैतूल की ओर जाने वाली अन्य ट्रेनों को भी इटारसी स्टेशन पर व सेक्शन में रोक कर रखा है। देखें पानी में डूबे रेलवे ट्रैक का वीडियो…

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक रेलवे ट्रैक के आसपास कटाव होने से मिट्टी धंसक गई है। फिलहाल 20806 नई-दिल्ली विशाखापत्तनम एक्सप्रेस और 12616 नई दिल्ली-चेन्नई जीटी एक्सप्रेस को खंडवा-भुसावल-बडनेरा रूट से रवाना कर दिया है। अन्य ट्रेनों को भी डायवर्ट किए जाने की संभावना है। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। अप ट्रैक पर हालांकि कोई दिक्कत नहीं है। इसलिए इस ट्रैक से धीरे-धीरे ट्रेनों को निकाला जा रहा है। बैतूल से भोपाल की ओर जाने वाली समता एक्सप्रेस को सुबह करीब आधा घंटे तक घोड़ाडोंगरी में खड़ी रखने के बाद रवाना कर दिया गया।

सुखतवा पुल से सुबह 11 बजे शुरू हुआ बैतूल-भोपाल नेशनल हाईवे पर यातायात.

घंटों तक बंद रहा भोपाल हाईवे

इसी तरह बैतूल-भोपाल नेशनल हाईवे पर भी घंटों तक आवाजाही ठप रही। रात को शाहपुर में माचना नदी पर बाढ़ के चलते करीब एक घंटे ट्रैफिक बंद रहा। इसके बाद खुला। उधर सुखतवा में सुबह करीब 4 बजे से बाढ़ के चलते हाईवे पर ट्रैफिक बंद था। यह अभी सुबह करीब 11 बजे शुरू हो सका है। घंटों तक जाम लगा रहने के कारण यहां वाहनों की लंबी कतार लग गई थी। इधर माचना नदी के कारण शाहपुर में भी यातायात लगातार ठप हो रहा है।

यह भी पढ़ें… National highway band : माचना नदी उफान पर, दोनों नेशनल हाईवे बंद, अंडरब्रिज भी हुए लबालब, घरों में घुसा पानी

बैतूल में अभी तक इतनी बारिश

बैतूल जिले में बीते 24 घंटे में 48.7 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। सबसे ज्यादा 78.4 मिलीमीटर बारिश प्रभातपट्टन में हुई। इसके अलावा बैतल में 31.6, घोड़ाडोंगरी में 60, चिचोली में 61.3, शाहपुर में 73.2, मुलताई में 77, आमला में 56, भैंसदेही में 12, आठनेर में 18.2 और भीमपुर में 19 मिलीमीटर बारिश हुई है। अब जिले में कुल औसत बारिश 596.4 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। जो कि जिले की सामान्य बारिश के आधे से अधिक है। पिछले साल अभी तक जिले में मात्र 282.6 मिलीमीटर बारिश ही हुई थी।

▪️ यह खबर आपने लोकप्रिय समाचार वेबसाइट https://www.betulupdate.com/ पर पढ़ी।