Yuvak ne lagai fansee : मरदानपुर में फांसी लगाकर युवक ने की आत्महत्या; महज दो दिनों में अलग-अलग कारणों से जा चुकी है 5 लोगों की जान

 

• नवील वर्मा, शाहपुर •

बैतूल जिले के शाहपुर थाना क्षेत्र के ग्राम मरदानपुर में एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। फांसी लगाने का कारण अज्ञात है। इससे पूर्व सोमवार को अलग-अलग कारणों से 3 युवकों और 1 ग्रामीण की मौत हो गई थी। एक युवक की ट्रैक्टर पलटने से उसमें दब कर मौत हो गई। वहीं दूसरे की काम करते समय करंट लगने से मौत हो गई। उधर एक युवक ने अज्ञात कारणों से फांसी लगा ली। एक ग्रामीण की आकाशीय बिजली गिरने से जान चली गई थी। पुलिस सभी मामलों में जांच कर रही है।

शाहपुर थाना क्षेत्र के मरदानपुर गांव में रात्रि में अज्ञात कारणों से एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुबह जब परिजन दरवाजा खोलने गए तो युवक फांसी पर लटकता मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पीएम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शाहपुर भेज दिया है। युवक की मौत से उसकी पत्नी सहित परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। प्राप्त जानकारी के अनुसार श्याम पिता झप्पू इवने (पटेल) ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाया है। वहीं मर्ग कायम कर जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें… Devar Bhabhi dance : लो चली मैं… गाने पर भाभी ने देवर की शादी में गजब का डांस कर मचाया धमाल, खुश होकर रिश्तेदारों ने कर दी नोटों की बारिश

ट्रैक्टर पलटने से युवक की मौत

इससे पूर्व सोमवार को बीजादेही थाना क्षेत्र के ग्राम डूडर में खेत की जुताई करते समय ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर पलट गया। इस हादसे में ट्रैक्टर चला रहे युवक की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार डूडर निवासी बेडू पिता जंगली परते उम्र 45 साल ने रिपोर्ट की है कि आज सुबह उसका बेटा अंकर परते (21) नीतेश इवने के खेत में ट्रैक्टर से जुताई करने के लिये गया था।

करीब 9 बजे अचानक ही ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर पलट गया। जिसमें अंकर दब गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना सीवोबाई ने देखी है। जिसनें घटना की जानकारी युवक के परिजनों को दी। इस पर युवक के पिता गांव के अन्य लोगों के साथ मौके पर पहुंचे। तब तक अंकर की मृत्यु हो चुकी थी। पुलिस द्वारा सूचना पर मर्ग कायम कर जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें… Maha Rupya Vigyan : हथेलियों से नोट चार्ज करने से होती है रुपयों की बरकत, खुलते हैं हर तरह की तरक्की के द्वार

छत पर काम कर रहे युवक को लगा करंट

बैतूल बाजार थाना क्षेत्र के कोलगांव में 20 वर्षीय युवक गोपाल पिता बिरजा ठाकरे दोपहर में अपने घर की छत पर काम कर रहा था। इसी बीच बिजली के खुले तार से अचानक करंट लग गया। इससे वह बेहोश हो गया। जिसके बाद परिजन उसे प्राइवेट वाहन से जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया है।

मृतक के पिता बृजलाल ने बताया कि वे लोग छत पर बारिश से बचने के लिए पॉलीथिन डाल रहे थे। कुछ लोग छत पर खपरैल चढ़ा रहे थे। जबकि कुछ लकड़ियां ठोंक रहे थे। उसी दौरान यह हादसा हुआ। अचानक एक खुले तार की चपेट में गोपाल आ गया। जिससे उसे तेज करंट लगा। वह मौके पर ही बेहोश हो गया था।

यह भी पढ़ें… Agnipath Recruitment: वायुसेना ने जारी किया अग्निपथ भर्ती के लिए नोटिफिकेशन, 24 जून से शुरू होगी आवेदन प्रक्रिया, यह मिलेंगी सुविधाएं

फांसी के फंदे पर झूलता मिला युवक का शव

सारणी में फाइनेंस कंपनी से लोगों को लोन दिलवाने वाले एक युवक का शव फांसी के फंदे पर झूलता मिला है। घटना सारणी के शॉपिंग सेंटर के पास मध्यप्रदेश पॉवर जनरेटिंग कंपनी के आवास में हुई। यहां विवेक मालवीय (26) का शव उसी के घर मे फांसी पर झूलता मिला है। परिजन उसे फंदे से उतारकर मध्यप्रदेश पॉवर जनरेटिंग कंपनी के क्षेत्रीय चिकित्सालय ले गए। जहां जांच के बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने मौके से विवेक का मोबाइल जब्त कर लिया है। जिसकी सीडीआर निकालने पर सच सामने आ सकता है। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया। उसके पिता पॉवर जनरेटिंग कम्पनी में कर्मचारी हैं। वे लकवाग्रस्त भी हैं। रात को विवेक ने उन्हें ड्यूटी से घर भी पहुंचाया था। उसकी आत्महत्या से परिवार सदमे में है।

यह भी पढ़ें… Realme C30 : धूम मचाएगा 8000 रुपये से कम का यह खूबसूरत मोबाइल, बेहतरीन लुक के साथ दमदार फीचर्स

पेड़ के नीचे मिली बकरी चराने गए ग्रामीण की लाश

मुलताई क्षेत्र के आमा बघोली में एक अधेड़ बकरी चराने के लिए खेत में गया था। बिजली गिरने से उसकी मौत हो गई। जब देर रात तक वह घर नहीं आया तो परिजनों ने उसे खोजना शुरू किया। सुबह उसका शव खेत में आम के पेड़ के नीचे पड़ा हुआ मिला। परिजन उसे मुलताई अस्पताल लेकर आए। जहां उसका पोस्टमार्टम किया गया।

जानकारी के अनुसार आमाबघोली निवासी मंगल भालेकर गायकी (50) रविवार देर शाम तक घर नहीं पहुंचा था। गांव में जोरदार बारिश हुई थी। साथ ही बिजली भी गिरी थी। परिजनों ने रात में ही उसको ढूंढना शुरू कर दिया। लेकिन, रात में मंगल का कोई पता नहीं चल पाया। सुबह परिजनों को उसका शव आम के पेड़ के नीचे पड़ा दिखाई दिया। उसका शव बुरी तरह से जला हुआ था। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें… NGO ki Dhokhadhadi : ब्यूटी पार्लर का प्रशिक्षण देने के नाम पर वसूले रुपए, डिप्लोमा दिया न प्रोत्साहन राशि, एनजीओ संचालिका सहित दो पर एफआईआर

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.