Asptal me wasuli : जिला अस्पताल में मरीजों से इलाज के नाम पर मांग रही थी महिला पैसे, पकड़ कर किया गया पुलिस के हवाले

• उत्तम मालवीय, बैतूल
जिला चिकित्सालय बैतूल में मरीजों के इलाज के नाम पर रुपए मांगते एक महिला पकड़ी गई है। महिला को अस्पताल प्रशासन द्वारा कोतवाली पुलिस के हवाले किया गया है। इस बारे में अस्पताल प्रबंधन को काफी समय से शिकायत मिल रही थी। जिसके चलते नजर रखी जा रही थी।

मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एके तिवारी ने बताया कि जिला चिकित्सालय बैतूल में मरीजों के इलाज के नाम पर रुपए मांगते हुए एक महिला पकड़ी गई है। जिसे अस्पताल प्रशासन द्वारा कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया गया है।सिविल सर्जन डॉ. अशोक बारंगा ने बताया कि जिला चिकित्सालय बैतूल में आज प्रातः 10 बजे मेटरनिटी वार्ड में एक महिला जिसने अपना नाम रंजना मर्सकोले बताया है, पकड़ी गई है। महिला नर्सिंग ऑफिसर की सफेद यूनिफॉर्म में थी। वह चिकित्सालय के दवा वितरण केंद्र से वार्ड के मरीजों की पर्ची पर बीटाडीन के ट्यूब सहित अन्य दवाइयां एकत्रित कर रही थी। इसके साथ ही दवाइयों को बेचने का प्रयास कर रही थी।

यह भी पढ़ें… Attack : युवक की पीठ में धंसा था चाकू, उसी हालत में लाना पड़ा पुलिस को अस्पताल, अब चल रहा उपचार

डॉ. बारंगा ने बताया कि जिला चिकित्सालय बैतूल में आए मरीजों से ऑपरेशन कराने और इलाज के नाम पर यह महिला पैसे मांगती है। यूनिफॉर्म का गलत इस्तेमाल कर मरीजों के बीच भ्रम फैलाती है। शासकीय दवाइयां प्राप्त कर उन्हें बेचने का कार्य भी करती है। महिला अपना अलग-अलग नाम बता रही है। कभी अपना नाम रंजना मर्सकोले बता रही है तो कभी अपना नाम अंजलि भी बता रही है।

यह भी पढ़ें… पिता स्वास्थ्य विभाग में ड्राइवर, बेटा बन गया ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर

आरएमओ डॉ. रानू वर्मा द्वारा बताया गया कि विगत कुछ दिनों से लगातार जिला चिकित्सालय बैतूल में मरीजों से इलाज के नाम पर रुपए मांगे जा रहे हैं, ऐसी शिकायतें प्राप्त हो रही थीं। जिस कारण अस्पताल प्रशासन द्वारा बाहरी तत्वों पर विशेष नजर रखी गई। जिसके तहत की गई कार्यवाही में रंजना मर्सकोले नाम की अज्ञात महिला पकड़ी गई है। जिसे कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया गया है। यह महिला नर्सिंग ऑफिसर की सफेद यूनिफॉर्म में अक्सर मेटरनिटी, सर्जिकल शिशु एवं पीएनसी वार्ड में पैसे मांगते देखी गई है।

यह भी पढ़ें… daughter brought happiness : बेटी का जन्म होते ही लगा मानो मिल गया खुशियों का जहां, धूमधाम से किया स्वागत

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. तिवारी ने कहा कि इस तरह की घटनाएं यदि बार-बार घटित होती हैं तो आवश्यक अनुशासनात्मक एवं दंडात्मक कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी। बाहरी तत्वों द्वारा जिला चिकित्सालय बैतूल में इस प्रकार की अनावश्यक दखलअंदाजी, रुपए मांगना एवं बार-बार मरीजों को इलाज के नाम पर परेशान करना बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें… स्वास्थ्य विभाग के स्टोर कीपर के आवास पर ईओडब्ल्यू का छापा

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.