गर्भवती महिला की मौत : जिला अस्पताल में भिड़े दोनों पक्ष, जमकर चले लात-घूंसे, मायके पक्ष ने लगाया हत्या का आरोप

Death of pregnant woman: Both sides clashed in district hospital, kicked and punched fiercely, maternal side accused of murder

बैतूल। एक गर्भवती महिला की मौत के बाद मंगलवार को बैतूल जिला अस्पताल परिसर में दो पक्ष आपस में भिड़ पड़े। दोनों पक्षों के बीच जमकर मारपीट हुई। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर दोनों पक्षों को शांत कराया। मृत महिला के मायके पक्ष ने हत्या किये जाने का आरोप लगाया है। साथ ही पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक झल्लार गांव में करीब चार साल  पहले मृतक महिला सरिता (24) की शादी सागर पिता विनायक महाले से हुई थी। मायके पक्ष का आरोप है कि शादी के दो महीनों बाद से ही ससुराल पक्ष ने पैसे की मांग करते हुए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया था। इसी बीच मायके पक्ष तीन-चार बार अपनी बेटी को ससुराल से मायके ले गया। मामला शांत होने के बाद सरिता अपने ससुराल चली जाती थी। इसी दौरान सरिता को एक बेटा हुआ। उसके बाद दोबारा से 4 माह की गर्भवती थी।

सरिता के भाई संदीप दांवडे ने बताया कि उसकी बहन को ससुराल वाले लगातार परेशान कर रहे थे। पैसे लेकर आने के लिए अभी पिछले 4 दिनों से बहुत ज्यादा परेशान कर रहे थे। पूरी दोपहर गर्मी में काम करवाते थे। उसे खाना भी नहीं दिया जा रहा था। जब सरिता यह बात मायके पक्ष को बताती थी तो उसका देवर मोबाइल फेंक देता था और झगड़ा करता था। महिला का पति सागर नहीं चाहता था कि अभी दूसरा बच्चा हो। वह अपनी पत्नी को चार माह के गर्भ का गर्भपात कराने के लिए प्रताड़ित भी करता था। मारपीट की घटना का देखें वीडियो…👇

मृतिका के भाई ने बताया कि 30 मई को उसकी बहन के साथ ससुराल वालों ने मारपीट की। यही नहीं पानी के टांके में सिर डूबकर मार डाला। इस घटना के बाद झल्लार के सरकारी अस्पताल में भर्ती किया गया। वहां से बैतूल में एक निजी अस्पताल लेकर आए, जहां डॉक्टर ने महिला को मृत घोषित कर दिया। मायके पक्ष का यह आरोप भी है कि इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी मायके पक्ष को किसी प्रकार की सूचना नहीं दी गई थी।

बहरहाल, इन सबके चलते मायके पक्ष खासा रोष में था। मंगलवार को महिला को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल लाया गया। इसी दौरान महिला के ससुराल पक्ष और मायके पक्ष के बीच जमकर मारपीट हो गई। बताया जाता है कि जब पीएम हो रहा था, तब मृतिका का ससुर हंस रहा था। उसे हंसते हुए देख कर मायके पक्ष ने आपा खो दिया। इधर महिला के पति का कहना है कि रात को चक्कर आने के कारण सरिता गिर गई थी। इससे उसकी मौत हुई है।

घटना के बाद मायके पक्ष के लोगों ने एसपी आफिस पंहुचकर दहेज के लोभी परिवार के ऊपर कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है। मायके पक्ष ने मृतक महिला के पति सागर पिता विनायक महाले, ससुर विनायक महाले, सास चंद्रकला महाले, देवर तरुण महाले झल्लार के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

एडिशनल एसपी नीरज सोनी का इस मामले में कहना है कि भैंसदेही एसडीओपी को जांच के आदेश दे दिए गए है। मर्ग जांच की जा रही है। पूरे तथ्य सामने आने के बाद नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.