अनोखा रिश्ता : छह साल की वैष्णवी को लग चुका अब तक 70 बार रक्त, अकेले भानू कर चुके 19 बार डोनेट, खबर मिलते ही दौड़े चले आते हैं…

Unique Relationship: Six-year-old Vaishnavi has felt blood 70 times so far, Bhanu alone has donated 19 times, keeps running as soon as she gets the news...

  • उत्तम मालवीय, बैतूल
    कुछ जटिल बीमारियां भी कभी-कभी अनूठे रिश्ते बना देती हैं। एक ऐसा ही अनोखा रिश्ता बैतूल जिले में भी बना है। यह अनूठा और प्रगाढ़ आत्मीय रिश्ता बना है महज 6 साल की मासूम वैष्णवी और भानुप्रताप चंदेलकर के बीच। वैष्णवी को इस अल्पायु में ही अभी तक 70 यूनिट रक्त लगाया जा चुका है। वहीं इसमें से 19 बार अकेले उसके लिए रक्तदान कर चुके हैं। वैष्णवी को रक्त की जरूरत पड़ने की सूचना मिलते ही भानू दौड़े चले आते हैं।

    दरअसल, सिकलसेल व थैलेसीमिया ऐसी बीमारी है जिसमें हर माह व कभी-कभी माह में दो-तीन बार भी बच्चों को रक्त चढ़ाना पड़ता है। नन्हीं वैष्णवी भी सिकलसेल से पीड़ित है। उसे जब ओ निगेटिव रक्त की आवश्यकता पड़ी तो भानुप्रताप चन्देलकर ने एक संदेश पर मुलताई से आकर दोपहर में जिला रक्तकोष में रक्तदान किया।

    charitable work : 38 डिग्री तापमान में 46 किलोमीटर दूर जाकर किया 38 वीं बार रक्तदान

    इस अवसर पर माँ शारदा सहायता समिति के शैलेन्द्र बिहारिया व राजेश बोरखडे ने बताया कि आज 19 वीं बार भानुप्रताप ने रक्तदान किया। वे ज्यादातर वैष्णवी के लिये रक्तदान करते हैं। उन्होंने कहा कि भानू अपने नाम के अनुरूप रक्तदान के सूर्य हैं। अपने रक्त रूपी रोशनी से वे किसी के घर के बुझते चिराग को रोशनी प्रदान करते हैं।

    मानवता की दो मिसाल : एक फोन पर आमला से बैतूल पहुंचकर किया रक्तदान, हनुमान जन्मोत्सव की खुशियां छोड़ घायल को पहुंचाया अस्पताल

    अभी तक वैष्णवी को 70 यूनिट रक्त चढ़ चुका है। इस अवसर पर भानुप्रताप को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर ग्राम असाड़ी से डॉक्टर नीलम शुक्ला ने जिला ब्लड बैंक पहुँचकर अपने जन्मदिन पर एबी पॉजिटिव रक्त का दान किया। जिस पर उन्हें प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया।

    Welden : जिला अस्पताल में नहीं था बी पॉजिटिव ब्लड, मरीज को जरूरत की जानकारी मिलते ही रक्तदान करने पहुंचे लोकेश

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.