Ironically : अपनों ने ठुकराया तो मौत ने लगाया गले, हत्या का आरोपी पति गिरफ्तार, इधर सुसाइड नोट लिख युवक ने पीया जहर

When loved ones rejected, death hugged her, husband accused of murder arrested, writing suicide note here the young man drank poison

◼️ उत्तम मालवीय, बैतूल
माता-पिता ने जन्म लेने के बाद जिस बच्चे का नाम बड़ी शान और खुशी से राजकुमार रखा था, बीती रात उसकी लावरिस की तरह मौत हो गई। 15 दिनों से वह उम्मीद लगाए था कि वह जल्द ही अपने मामा या भाई के घर जा पाएगा। लेकिन परिजनों ने उसे अपनाने से इंकार कर दिया। ऐसे में मौत ने उसे गले लगा लिया। उधर आमला पुलिस ने हत्या के आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है। इधर एक अन्य मामले में एक युवक ने सुसाइड नोट लिख कर जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। पाढर अस्पताल में उसकी मौत हो गई।

जबलपुर निवासी राजकुमार कुशवाह मुम्बई में एक कंपनी में काम करता था। उसे पेरालिसिस अटैक आने पर कंपनी के कुछ साथी उसके दोस्त सूर्यकांत सोनी के सुपुर्द कर गए थे। जिसका उपचार जिला अस्तपाल में चल रहा था। इन 15 दिनों में राजकुमार का दोस्त सूर्यकांत सोनी उसकी देखभाल करता रहा। कल जब सांसें उखड़ने लगी तब भी सुबह से देर रात तक वह जिला अस्पताल में ही उसका ध्यान रखता रहा। रात करीब 10 बजे डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस द्वारा राजकुमार को सतना या जबलपुर भेजने के लिए वाहन की व्यवस्था करने के भी निर्देश सीएमएचओ डॉ. एके तिवारी को दे दिए थे। लेकिन परिजन उसे अपने पास बुलवाने राजी ही नहीं हुए।

Rajkumar Kushwah

विडम्बना यह थी कि राजकुमार की मौत की सूचना देने के लिए परिजन फोन उठा लें, इस बात के लिए 12 घंटे का इंतजार करना पड़ा। सुबह जब फोन उठा तब कहीं जाकर सबसे पहले ममेरे भाई को सूचना दी गई। श्रीमती पदम ने बताया कि सतना निवासी उसके मामा का कहना था कि शव को सतना भिजवा दें। जिस पर उन्होंने बैतूल आकर फार्मलिटी कर शव ले जाने की बात कही।

how this relationship : अपने हुए बेगाने, पैरालिसिस पीड़ित युवक को पास बुलाने से कर रहे इंकार, दोस्त कर रहा 5 दिनों से देखभाल

इधर सूर्यकांत द्वारा भी राजकुमार के भाई से जबलपुर में सम्पर्क किया गया। आखिर भाई ने कुछ अन्य रिश्तेदारों के साथ बैतूल आने की सहमति दी। आज रात तक राजकुमार के रिश्तेदार बैतूल पहुंचेंगे। सुबह राजकुमार को सतना या जबलपुर ले जाने या बैतूल में ही अंतिम संस्कार करने का निर्णय परिवार द्वारा लिया जाएगा। जिन अपनों के इंतजार में राजकुमार ने दम तोड़ दिया वे अब राजकुमार का अंतिम संस्कार करेंगे।

युवक ने पीया जहर, इलाज के दौरान हुई मौत

इधर फोरलेन निर्माण कर रही कम्पनी में ड्रायवर के रूप में कार्य कर रहे युवक ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। युवक को जिला अस्पताल लाया गया था। जहां हालत गंभीर होने पर उसे पाढर अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां आज उसकी मौत हो गई। शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

इस संबंध में पुलिस ने बताया कि फोरलेन निर्माण कर रही कंपनी में ड्रायवर पवन मालवीय (28) निवासी शाहपुर बैतूल में गेंदा चौक पर किराए के मकान में रहता था। पहले वह जननी एक्सप्रेस में ड्रायवर था। उसने सुसाइड नोट लिखा और जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। उसे जिला अस्पताल लाया गया था।

हालत गंभीर होने से उसे पाढर अस्पताल रेफर किया गया। वहां आज उसकी मौत हो गई। इसके बाद जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया है। बताया जाता है कि पुलिस ने सुसाइड नोट जब्त कर लिया है। बैतूल कोतवाली टीआई अपाला सिंह ने बताया कि युवक का रूम सील कर दिया है। मामले की जांच की जा रही है।

जेल पहुंचा पत्नी की हत्या कर दफनाने वाला आरोपी

◼️ अंकित सूर्यवंशी, आमला

आमला पुलिस ने पत्नी की हत्या करने वाले आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है। न्यायालय में पेश करने के बाद उसे जेल भिजवा दिया गया है। विगत 13 मई को नीमझिरी में सालिक राम उइके (45) ने अपनी पत्नी गुलसो बाई की हत्या करके घर के पीछे गड्डा खोदकर दफना दिया था। पुलिस ने 14 मई को कार्यपालिक दण्डाधिकारी प्रभात मिश्रा की उपस्थिति में खुदाई करा कर गुलसो बाई का शव बरामद किया था। संदेही सालिकराम के खिलाफ धारा 302, 201 के तहत अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया।

Murder : पत्नी की हत्या कर जमीन में गाड़ा शव, फिर आत्महत्या करने खुद ने पी लिया जहर

सालिकराम को जहरीली वस्तु खा लेने से जिला अस्पताल बैतूल में उपचार हेतु भर्ती कराया गया था। आज उपचार उपरांत डिस्चार्ज होने पर अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई। उसने जुर्म स्वीकार कर बताया कि गुलसो बाई से झगड़ा होने पर गला दबाकर हत्या की थी। आरोपी की निशानदेही पर गड्ढा खोदने में प्रयुक्त गैती व फावड़ा बरामद कर लिया गया है। उसे न्यायालय पेश किया गया। जहां से जेल वारण्ट जारी होने पर उप जेल मुलताई दाखिल कराया गया है।

फॉलोअप : तहसीलदार की मौजूदगी में निकाला गया महिला का शव, एसपी भी पहुंचीं मौके पर, इसलिए की थी पति ने हत्या

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.