थोक में मिली अनियमितताएं : शिक्षक और सचिव निलंबित, कार्यकर्ताओं का वेतन काटा, पर्यवेक्षक और पटवारी को शोकॉज नोटिस

Irregularities found in bulk: Teacher and secretary suspended, workers' salary deducted, show cause notice to supervisor and patwari

  • उत्तम मालवीय, बैतूल
    कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस एवं सीईओ जिला पंचायत अभिलाष मिश्रा ने गुरूवार को भीमपुर विकासखंड के क्लस्टर ग्राम रतनपुर में ग्राम संवाद आयोजित कर आमजन की समस्याएं सुनीं एवं उनका निराकरण किया। जो समस्याएं तत्काल निराकरण योग्य नहीं थी, उनके समय-सीमा में निराकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। इस दौरान 123 आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से 88 को मौके पर ही निराकृत किया गया।

    क्लस्टर अधिकारियों के ग्रामीण क्षेत्रों में भ्रमण के दौरान आंगनबाड़ी केन्द्र कुटंगा एवं डढारीरैयत में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा आगामी दिवस की हितग्राही उपस्थिति पूर्व से ही पंजी में दर्ज पाई गई। जिस पर कलेक्टर द्वारा उक्त दोनों केन्द्रों की आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का दस-दस दिवस का मानदेय काटने के निर्देश दिए गए। साथ ही सेक्टर पर्यवेक्षक को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।

    ग्राम सिंगारचावड़ी में सामाजिक सहायता के पेंशन प्रकरणों के निराकरण में लापरवाही पाए जाने पर कलेक्टर द्वारा वहां के पंचायत सचिव को निलंबित करने के निर्देश दिए गए। इसी तरह ग्राम झापल में गिरदावरी के सत्यापन में एक शिकायतकर्ता की गेहूं एवं चना की फसल का गलत इंद्राज करने पर संबंधित पटवारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए।

    झापल में ही स्कूल में बच्चों की उपस्थिति कम होने एवं मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम का भोजन ज्यादा पकने की जानकारी मिलने पर कलेक्टर द्वारा बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने के निर्देश दिए गए। यहां के खामढाना में प्राथमिक शाला के शिक्षक की उपस्थिति में अनियमतता संबंधी शिकायत पर उनको निलंबित करने के निर्देश भी दिए गए।

    पीपलढाना में निर्मित स्कूल भवन के अतिरिक्त कक्ष की पूर्णता एवं गुणवत्ता ठीक नहीं होने की शिकायत पर संबंधित एजेंसी के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई के लिए जिला परियोजना समन्वयक को निर्देशित किया गया।

    ग्राम पंचायत पातरी के घोरपड ऱैयत में बिजली संबंधी आवश्यक मरम्मत की शिकायत को तत्काल निराकरण करने हेतु विद्युत विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए गए। झापल के घोघराढाना में पेयजल की पाइप लाइन की मरम्मत के लिए भी पीएचई के अधिकारी को निर्देशित किया गया।

    ग्राम पंचायत सिंगारचावड़ी में नलकूप की दिक्कत को तत्काल निराकृत करने के पीएचई के अधिकारी को निर्देश दिए। सिंगारचावड़ी में राशन वितरण नहीं होने की जानकारी मिलने पर आपूर्ति अधिकारी को निरीक्षण करने के लिए कहा गया।

    ग्राम पंचायत कुटंगा में वनाधिकार पत्रों से संबंधित शिकायत की जांच हेतु निर्देश दिए। यहां नल-जल योजना की मोटर के संधारण एवं जले हुए ट्रांसफार्मर के नियमानुसार बदलाव हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए।

    ग्राम पंचायत भांडवा में हैंडपंप नहीं चलने संबंधी शिकायत को भी निराकृत करने के लिए पीएचई के अधिकारी को निर्देश दिए गए। इसी तरह यहां काजल नदी पर बांध निर्माण की मांग का परीक्षण करने के लिए जल संसाधन विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए गए। राजस्व संबंधी शिकायतों के निराकरण के लिए इस ग्राम में शिविर लगाने के लिए भी कलेक्टर ने निर्देश दिए।

    क्लस्टर अधिकारियों द्वारा ग्राम पंचायत पातरी, झापल, भांडवा, सिंगारचावड़ी, रतनपुर, कुटंगा, लक्कडज़ाम, पिपरिया (गु.), गुरुवा, काबरा एवं ग्राम पंचायत चकढाना में ग्राम सभाएं आयोजित कर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी गईं एवं उनका ग्राम संवाद के दौरान निराकरण किया गया।

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.