cattle smuggling : जंगल के रास्ते कत्लखाने ले जा रहे थे 54 मवेशी, राष्ट्रीय हिन्दू सेना ने बचाए, 7 आरोपियों को भी पकड़ा

54 cattle were being taken to the slaughterhouse through the forest, Rashtriya Hindu Sena saved, 7 accused were also caught


बैतूल। जिले से गोवंश की तस्करी बंद नहीं हो पा रही है। तस्करों के द्वारा अलग-अलग तरीके अपना कर गोवंश ले जाए जा रहे हैं। शनिवार को जंगल के रास्ते पैदल 54 गोवंश महाराष्ट्र के कत्लखाने ले जाए जा रहे थे। इन्हें राष्ट्रीय हिंदू सेना के पदाधिकारियों ने पकड़ने में सफलता हासिल की है।

राष्ट्रीय हिन्दू सेना के प्रखंड अध्यक्ष संजय यादव ने बताया कि संगठन के पदाधिकारियों को सूचना मिली थी कि पाढर चौकी के अंतर्गत आने वाले जंगल के रास्ते से बड़े पैमाने से गोवंश को कत्लखाने ले जाया जा रहा है। तभी हमारे द्वारा संगठन के प्रदेशाध्यक्ष दीपक मालवीय को सूचना कर गोवंश को पकड़ने की योजना बनाई गई। इसके बाद जंगल में जा कर 54 नग गोवंश को तस्करों से आजाद करवाया गया।

प्रदेश अध्यक्ष दीपक मालवीय ने बताया कि 7 आरोपियों को भी धर दबोचा है। आरोपियों में गुडेन काकोडिया, राजेश उईके, सतीश उईके, संदीप कोचडे, महेश कोचडे, दिलीप काकोडिया, शांतिलाल कडोडिया शामिल हैं। इनसे पूछताछ की तो आरोपियों ने बताया कि यह गोवंश होशंगाबाद के बाबई व्यापारियों ने हमें मजदूरी से 500 रूपए रोज से ले गए थे।

मध्य भारत प्रान्त अध्यक्ष पवन मालवीय ने बताया कि गोवंश तस्करी की सूचना तत्काल बैतूल पुलिस अधीक्षक को दी गई एवं पाढर चौकी प्रभारी बीपी मौर्य, एवं पुलिसकर्मी ज्ञानसिंह परते, हाकम सिंह के सहयोग से गोवंश को बरामद कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि बैतूल जिले से आए दिन बड़े पैमाने पर गोवंश की तस्करी हो रही है। उचित कार्यवाही नहीं होने के चलते गोवंश तस्करी रूकने का नाम नहीं ले रही है।

इस कार्यवाही में नगर सह संयोजक प्रवीण साहू, प्रखंड अध्यक्ष सोफ्निल छोटू पंवार, प्रखंड महामंत्री मुकेश यादव, ग्राम उपाध्यक्ष महेंद्र यादव, महुपानी गांव अध्यक्ष रितेश यादव, ग्राम सह संयोजक नवीन यादव, चमन यादव, तुलाराम यादव, अंकित यादव, हरिओम यादव, मुकेश यादव आदि मौजूद थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.