Water Crisis : महीने भर से जल संकट से जूझ रहे गुरवा पिपरिया के ग्रामीण, 20 किमी पैदल चलकर सीईओ को बताई समस्या, निराकरण की लगाई गुहार

Villagers of Gurva Pipariya, who have been suffering from water crisis for a month, walked 20 km and told the problem to the CEO, pleaded for solution

  • उत्तम मालवीय, बैतूल
    बैतूल जिले के आदिवासी बहुल भीमपुर ब्लॉक के गुरुवा पिपरिया क्षेत्र के गांव और ढाने के लोग पिछले एक महीने से जल संकट से जूझ रहे हैं। एक ओर जहां ग्रामीणों को पर्याप्त पानी नहीं मिल रहा है वहीं नदी-नालों का पानी खत्म हो जाने से मवेशियों को भी पानी नसीब नहीं हो पा रहा है। यही कारण है कि इन गांवों के ग्रामीण 20 किलोमीटर पैदल चल कर भीमपुर पहुंचे। वहाँ उन्होंने जनपद सीईओ को समस्या बताई और निराकरण करने की गुहार लगाई।

    भीमपुर के जयस प्रभारी पप्पू काकोड़िया ने बताया कि ग्राम गोलीढाना बटकी, गोलीढाना पिपरिया, बाजारढाना पिपरिया, सोसाइटी पिपरिया, संगवाणी मंदिरढाना, बहेड़ाढाना, जीरूढाना के ग्रामीण पिछले एक महीने से पानी की समस्या का सामना कर रहे हैं। क्षेत्र में कहीं हैंडपम्प बंद पड़े हैं तो कुछ जल स्तर गिरने से पर्याप्त पानी नहीं उगल रहे हैं। नल जल योजनाएं भी नाकाफी साबित हो रही है।

    यही कारण है कि भीमपुर जनपद कार्यालय में पानी की गंभीर समस्या को लेकर 20 किलोमीटर दूरी से चलकर ग्रामीण पहुंचे। यहाँ उन्होंने जनपद सीईओ को पानी की समस्या से अवगत कराया। ग्रामीणों ने बताया कि एक महीने से वे परेशान हो रहे हैं। इसके बावजूद ग्राम पंचायत के द्वारा अभी तक पानी की कोई व्यवस्था नहीं की गई है। इसके चलते हम सभी ग्रामवासियों को 20 किलोमीटर की दूरी तय करके जनपद कार्यालय आना पड़ा।

    जयस के कार्यकर्ताओं के माध्यम से ग्रामीणों ने CEO के सामने अपनी बात रखी। इस पर जनपद सीईओ ने आश्वासन दिया कि 3 दिन में इस समस्या का निराकरण हो जाएगा। इस मौके पर जयस के कार्यकर्ता पप्पू काकोड़िया (जयस प्रभारी भीमपुर), विजेश इरपाचे (ब्लॉक अध्यक्ष भीमपुर), राम सिंह धुर्वे, जगनू यादव, रामपाल, कन्नू, तुलसीराम, कन्हैया, सुखदेव, बालकराम, संतोष आदि उपस्थित रहे।