शिव बारात में जमकर थिरकी महिलाएं और युवतियां, उठाया पूरा लुत्फ

आयोजन में विधायक निलय डागा भी झांझ बजाकर और डांस कर बने रहे आकर्षण का केंद्र

Women and girls danced fiercely in Shiv procession, enjoyed full

  • उत्तम मालवीय, बैतूल
    महाशिवरात्रि पर इस वर्ष बैतूल में निकाली गई भगवान भोलेनाथ की ‘शिव बारात’ का आयोजन यादगार बन गया है। थाना चौक स्थित शिव मंदिर से भगवान भोलेनाथ की शिव बारात दोपहर 4 बजे निकाली गई। आयोजन शिव बारात उत्सव सेवा समिति द्वारा किया गया। बारात में सैकड़ों की तादाद में बाबा भोलेनाथ के भक्त शामिल हुए। इनमें बड़ी संख्या में महिलाएं, युवतियां और बालिकाएं भी शामिल हैं।

    किसी पारिवारिक विवाह उत्सव की तरह ही शिव बारात के इस धार्मिक आयोजन में भी इन सभी ने पूरा-पूरा आनंद उठाया। शिव बारात के शुभारंभ से लेकर समापन तक महिलाएं, युवतियां और बालिकाएं भी विभिन्न धार्मिक गीतों पर कभी गरबा-डांडिया तो कभी नृत्य करती रहीं। इस दौरान वे जमकर सेल्फी भी लेती रहीं। उल्लेखनीय है कि शिव बारात में शामिल हुए विधायक निलय डागा भी झांझ बजाकर और डांस कर सभी के आकर्षण का केंद्र बन गए थे।

    शंभू भोले सेवा समिति एवं थाना चौक स्थित शिव मंदिर समिति के अध्यक्ष हेमू बंजारे ने बताया कि बारात के पहले शिव मंदिर में हुए सभी वैवाहिक कार्यक्रमों में भगवान भोलेनाथ का प्रति शाम को विशेष श्रंगार किया जाता है। इसमें 5 दिन के विशेष श्रंगार का पूरा खर्चा शुभम पवार द्वारा उठाया गया। बारात मार्ग के दोनों ओर श्रद्धालुओं ने बारातियों पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।

    जगह-जगह श्रद्धालुओं ने बारातियों के लिए स्वल्पाहार की व्यवस्था की थी। बारात में सबसे आगे भगवान भोलेनाथ के नंदी चल रहे थे। उसके पीछे विजय धमाल ग्रुप के संजु जौंधलेकर अपने हुनर का जादू दिखा रहे थे। सभी बाराती थिरकते हुए चल रहे थे।

    शिव बारात उत्सव सेवा समिति के अध्यक्ष मोनू सोनकपुरिया ने बताया कि इस बार बारात में विशेष रूप से उज्जैन का प्रसिद्ध झाँझ मंडल भी शामिल हुआ। जिन्होंने अपनी प्रस्तुति देकर शहर वासियों का मन मोह लिया। साथ ही उज्जैन के पंडित जी के द्वारा थाली घुमाने का भी कार्यक्रम बारात में शामिल था, जो बिना रुके हुए घंटे तक थाली घुमा रहे थे।

    यह भी देखें… शिव बारात में विधायक डागा ने बजाई झांझ, जमकर झूमे भी, श्रद्धालुओं के आकर्षण का बने केंद्र

    बारात के आगे चल रही विशाल नंदी की जोड़ी श्रद्धालु राम श्याम वर्मा द्वारा बरात के लिए दी गई थी। उज्जैन के 20 सदस्यीय कलाकारों के विश्राम एवं भोजन की व्यवस्था के सहयोग के लिए वरद मैरिज गार्डन के संचालक वरुण धोटे के प्रति समिति कृतज्ञता व्यक्त करती है।

    मोनू सोनकपुरिया ने यह भी बताया कि समिति के सभी सदस्यों की 2 महीने के परिश्रम का ही यह प्रतिफल है कि बारात अपने भव्य एवं विशाल रूप में निकाली गई। बारात में एक विशाल पगड़ी भी आकर्षण का केंद्र रही, जिसका निर्माण कोठी बाजार निवासी देवेंद्र संतोष सोनी द्वारा किया गया। यह पगड़ी अति शीघ्र उज्जैन स्थित महाकाल को पहनाई जाएगी। बारात में कड़ा बीम का भी अपना एक अलग आकर्षण था जो समय-समय पर रंग-बिरंगे छटाओं को बिखेर रही थी।

    शिव बारात सेवा समिति के संरक्षक अक्षय तातेड़ ने सभी सेवाभावी श्रद्धालुओं को नमन किया। उन्होंने बताया कि स्प्रेडिंग स्माइल ग्रुप, रसिया मानस मंडल, अखाड़ा हनुमान मंदिर टिकारी, सितारा मंडल, चांदनी चौक, मरही माता मंदिर टिकारी, शैलेंद्र कुंभारे, लल्ली वर्मा, चंद्र भवन चौक, नवयुवक दुर्गा उत्सव सेवा समिति कंपनी गार्डन, शुभम वर्मा, राम मंदिर समिति, विधायक निलय डागा, कृष्ण मंदिर समिति, मेहंदीपुर बालाजी भक्त मंडल, मरही माता मंदिर कोठी बाजार ने बारात का जगह-जगह स्वागत किया।

    साथ ही महाकाल की मूर्ति निर्माण के लिए आशीष प्रजापति, महाकाल का प्रति शाम श्रंगार करने के लिए आशीष यादव, पालकी को फूलों की सजावट के लिए गोल्डी ठाकुर, बजरंग फ्लावर बेतूल एवं समस्त फोटोग्राफी के लिए राहुल डोंगरे के प्रति अपना आभार व्यक्त किया है। साथ ही यह भी अपेक्षा की है कि आगे आने वाले वर्षों में इसी प्रकार का सहयोग एवं स्नेह शिव बारात के लिए बना रहे।

  • Leave A Reply

    Your email address will not be published.