यहाँ जमीन से 250 फीट नीचे गुफा में है भोले बाबा, झरने के पानी से प्रकृति करती है अभिषेक

शिवधाम सुखवान में महाशिवरात्रि पर बड़ी संख्या में पहुंचे श्रद्धालु, चहुँओर बिखरा है प्राकृतिक सौंदर्य

Here is a cave 250 feet below the ground, Bhole Baba, nature anoints with the water of the spring

  • लवकेश मोरसे, दामजीपुरा (बैतूल)
    एमपी (MP) के बैतूल जिले में ऐसे शिवधाम भी बहुत हैं जहां बगैर किसी के स्थापित किए प्राकृतिक रूप से ही भोलेनाथ विराजे हैं। बैतूल से लगभग 70 किलोमीटर दूर बैतूल-आशापुर स्टेट हाइवे (state highway) पर भी ऐसा ही एक शिवधाम सुखवान (sukhvan) स्थित है। यहां भूतल से करीब 250 फीट नीचे पहाड़ की तलहटी में स्थित एक गुफा में प्राकृतिक शिवलिंग विराजमान है।

    खास बात यह है कि यहां प्रकृति खुद भोले बाबा का पूरे वर्ष भर निरंतर अभिषेक करती रहती है। पहाड़ की चट्टानों में स्थित झरने से इस शिवलिंग पर निरंतर पानी झरता रहता है और अभिषेक होते रहता है। इस स्थान पर प्रकृति ने अपना खूब सौंदर्य भी बिखेरा है। पहाड़ों के बीच चारों ओर बिछी हरियाली की चादर, चट्टानों से झरता पानी यहाँ आने वालों को बेहद रोमांचित और मंत्र मुग्ध कर देता है। यहां तक आने के बाद किसी का भी वापस जाने का मन नहीं करता।

    यहाँ पहुंचने के लिए बैतूल से जाते समय नांदा से करीब 10 किलोमीटर दूर आगे जाकर बाई ओर मुड़ना होता है। यहाँ पाट रैयत के पास मुख्य मार्ग से लगभग 5 किलोमीटर कच्चा रास्ता है। इसके बाद आता है सुखवान। 5 किलोमीटर का कच्चा रास्ता थोड़ा तकलीफदेह जरूर है। लेकिन इस बीच मार्ग के दोनों ओर का प्राकृतिक सौंदर्य किसी परेशानी का एहसास ही नहीं होने देता।

    सुखवान नामक यह तीर्थ स्थल शिव शक्ति धाम के नाम से प्रसिद्ध है। यूँ तो यहां पर वर्ष भर श्रद्धालुओं की आवाजाही लगी रहती है पर शिवरात्रि पर्व पर बड़ी संख्या में भक्त पहुंचते हैं। शिवरात्रि पर यहां मेला भी लगता है। यह क्षेत्र आदिवासी बहुल है और इस क्षेत्र के वासियों की भी इस स्थान को लेकर अटूट आस्था है। यहां झरने से निकलने वाले पानी का भी अपना महत्व है। ग्रामीणों की मान्यता है कि इससे कई बीमारियां दूर होती हैं।

    इस वर्ष भी महाशिवरात्रि पर यहां मेला लगा। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष और महाकाल के परम भक्त आदित्य (बबला) शुक्ला भी शिव शक्ति धाम सुखवान पहुंचे। गुफा पर जाकर उन्होंने भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना की एवं क्षेत्र के दर्शनार्थी भक्तों से मेल मिलाप भी किया। इस पूरे स्थान को उन्होंने घूम कर देखा। तारीफ करते हुए कहा कि बैतूल जिले में ऐसे बहुत सारे प्राकृतिक स्थान हैं जहां हमारे देवी देवता का स्थान है। शिवशक्ति धाम सुखवान भी भगवान भोलेनाथ का एक प्राकृतिक स्थान है और सतपुड़ा के घने जंगलों के बीच स्थित है।

    ग्रामीणों ने जिला अध्यक्ष श्री शुक्ला से यहाँ तक बिजली पहुंचाने की मांग भी रखी। उनका कहना था कि अगर इस जगह पर बिजली पहुंच जाएं श्रद्धालुओं को बड़ी सुविधा हो सकती है। यहां अन्य व्यवस्थाएं भी तब की जा सकेगी। इससे श्रद्धालुओं को भी सुविधाएं मिल सकेंगी और यह स्थान भी दूर-दूर तक प्रसिद्ध हो सकेगा।

    जिला अध्यक्ष श्री शुक्ला के साथ में अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश मीडिया प्रभारी अबिजर हुसैन, मंडल अध्यक्ष भूरा यादव, मंडल विस्तारक डॉ. महेंद्र सिंह चौहान, युवा मोर्चा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सुनील अड़लक, मंडल महामंत्री लवकेश मोरसे, युवा मोर्चा मंडल अध्यक्ष शंकर चौहान, कुंवर जामुनकर, कृष्णा यादव, श्याम यादव, संतोष यादव, शिवा कवडे, डॉ. बंगाली एवं दामजीपुरा मंडल के भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।