कोठे में लगी आग, तड़प-तड़प कर मर गए दो मवेशी

सेहरा की घटना, भागवत कथा के शोर के चलते नहीं गया किसी का ध्यान

The fire broke out in the room, two cattle died in agony


चेतावनी: वीडियो के कुछ दृश्य आपको विचलित कर सकते हैं। इसलिए कमजोर दिल वाले इसे ना देखें।

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    बैतूल बाजार थाना क्षेत्र के ग्राम सेहरा में बीती रात एक मकान से सटे कोठे में अज्ञात कारणों से आग लग गई। इससे कोठे में बंधे 2 मवेशियों की तड़प-तड़प कर मौत हो गई। जब तक ग्रामीणों का ध्यान उस ओर जाता तब तक काफी देर हो चुकी थी।

    सेहरा निवासी खुशीराम लिल्होरे ने बताया कि ग्राम पंचायत के उप सरपंच कृष्णा लिल्होरे के मकान से सटा हुआ ही उनका कोठा है। इसमें मवेशी बंधे रहते हैं। बीती रात अज्ञात कारणों से कोठे में आग लग गई। रात करीब एक बजे इसकी जानकारी ग्रामीणों को लगी।

    कोठे में आग लगने से वहाँ बंधी एक बगार (भैंस का बच्चा) और एक बछिया (गाय का बच्चा) की जलने से मौत हो गई। इसके साथ ही कोठा भी पूरी तरह जल गया है। इससे उन्हें काफी नुकसान हुआ है। इसकी सूचना पटवारी और पुलिस विभाग को दी गई है।

    भागवत कथा के शोर में नहीं गया ध्यान
    ग्रामीणों के अनुसार गांव में भागवत कथा चल रही है।अधिकांश ग्रामीण कथा सुन रहे थे। वहीं बाकी लोग सो रहे थे। भागवत कथा का तेज साउंड होने से किसी का भी ध्यान इस ओर नहीं गया। कथा समाप्त होने के बाद लोगों को आग लगने की खबर मिली। लेकिन, तब तक सब खाक हो चुका था।