गोवंश तस्करों को कड़ा सबक: वाहनों को राजसात करने की कार्यवाही शुरू

राष्ट्रीय हिंदू सेना ने की थी मांग, एसपी के प्रस्ताव पर पदाधिकारियों के हुए बयान

कलेक्टर न्यायालय में बयान देने पहुंचे राष्ट्रीय हिंदू सेना के पदाधिकारी।
  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    जिले से होने वाली गोवंश की तस्करी करने वालों को अब कड़ा सबक सिखाया जा रहा है। गोवंश तस्करी में पकड़े गए 41 वाहनों को राजसात करने की कार्यवाही जिले में शुरू हो गई है। इस संबंध में राष्ट्रीय हिंदू सेना द्वारा पूर्व में कई बार मांग उठाई थी। आखिरकार उनकी मांग पूरी हुई। एसपी सिमाला प्रसाद द्वारा प्रस्तुत राजसात के प्रकरणों पर जिला दंडाधिकारी न्यायालय में आज सुनवाई हुई। इसमें राष्ट्रीय हिंदू सेना के पदाधिकारियों के भी बयान दर्ज किए गए।

    राष्ट्रीय हिंदू सेना के मध्य भारत प्रांत अध्यक्ष पवन मालवीय ने बताया कि संगठन के पदाधिकारियों द्वारा आए दिन गोवंश तस्करी के मामलों में कार्यवाही करते हुए वाहनों व गोवंश को पकड़ कर पुलिस प्रशासन के हवाले किए गए थे। इसके बावजूद गोवंश तस्करी पर प्रभावी अंकुश नहीं लग पा रहा था। इसे देखते हुए गोवंश तस्करी में लिप्त वाहनों को राजसात करने की मांग संगठन द्वारा एसपी सिमाला प्रसाद से की गई थी।

    राष्ट्रीय हिंदू सेना के प्रदेश अध्यक्ष दीपक मालवीय ने बताया कि अभी तक गोवंश तस्करी में पकड़े गए वाहनों को राजसात करने की कार्यवाही नहीं होती थी। इसके चलते वाहन पकड़ने के बावजूद तस्करी नहीं रूक पा रही थी। संगठन के आग्रह पर एसपी सिमाला प्रसाद द्वारा जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में पकड़ाए गए 41 वाहनों के राजसात करने की सुनवाई कलेक्टर न्यायालय में शुरू हो गई है।

    जिला उपाध्यक्ष रूपराव भटकरे ने बताया कि आज इन वाहनों को राजसात करने के मामले में हम लोगों ने जिला दंडाधिकारी अमनबीर सिंह बैंस के न्यायालय में उपस्थित होकर बयान दिए हैं। इन वाहनों के राजसात होने की कार्यवाही होने से गोवंश तस्करों के हौसले पस्त हो सकेंगे गोवंश तस्करी पर निश्चित रूप से रोक लग सकेगी।

    आज के कृषि उपज मंडी बैतूल के भाव (दिनांक 31 जनवरी, 2022)

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.