सीएम ने दिए संकेत: 31 जनवरी के बाद खुल सकते हैं स्कूल

पिपल्याकलां में जनसभा को सम्बोधित करते हुए स्पष्ट की स्थिति

मध्यप्रदेश में 31 जनवरी के बाद स्कूल सरकार खोल सकती है। सीएम शिवराज ने कहा है कि अभी कोरोना के कारण स्कूल बंद है। 31 जनवरी के पहले समीक्षा करेंगे। कोरोना के केस यदि कम होना शुरू हो गए तो फिर से स्कूल खुलने और दोबारा ऑफलाइन पढ़ाई शुरू कराने की व्यवस्था कराई जाएगी, लेकिन बच्चों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को देखते हुए हम फैसला लेंगे। सीएम शिवराज शुक्रवार को राजगढ़ जिले के पिपल्याकलां के दौरे पर पहुंचे थे। इस दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने स्कूल खोलने को लेकर स्थिति स्पष्ट की।

एक दिन पहले स्कूल खोले जाने के मामले सरकार गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा और स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार आमने-सामने आ गए थे। इन मंत्रियों के टकराव के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का यह बयान आया है।

मप्र में स्कूल खोलने को लेकर ठीक एक दिन पहले गुरुवार को सीएम शिवराज के दो मंत्रियों में टकराव की स्थिति बन गई थी। शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि कोरोना के केस बढ़ते ही जा रहे हैं। अभी की स्थिति में 1 फरवरी से स्कूल खोलना आसान नहीं है। MP बोर्ड की परीक्षाएं भी आगे बढ़ाई जा सकती हैं। मंत्री परमार ने कहा ने था कि फरवरी के पहले सप्ताह में समीक्षा करेंगे। उसके बाद ही स्कूल खुलने और बंद रखने पर निर्णय लिया जाएगा। यह कोरोना के असर को देखते हुए तय किया जाएगा। वहीं गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा था कि स्कूल खोलने का निर्णय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ही लेंगे।

परीक्षा नजदीक आने से पालक चिंतित
बच्चों की अभी ऑनलाइन पढ़ाई चल रही है। लेकिन यह तारीख नजदीक आने पर बच्चों और अभिभावकों में उलझन है कि आखिर स्कूल फिर से खुलेंगे या नहीं।

21 जनवरी से कम हो रहे केस
मध्यप्रदेश में कोरोना पॉजिटिव केस की संख्या में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। 21 जनवरी को जहां एक दिन में 11 हजार 274 केस आए थे। इसके बाद इस आंकडे में कमी आ रही है। 27 जनवरी को 3 हजार 511 की कमी हुई। 27 जनवरी को 7 हजार 763 केस आए।

न्यूज सोर्स: https://dainik-b.in/iQ8KZAPQanb