जिसे लिया था गोद उसी ने उतारा था मौत के घाट

घोड़ाडोंगरी के बाजारढाना में वृद्धा की हत्या के मामले का हुआ खुलासा

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    सारणी थाना क्षेत्र के घोड़ाडोंगरी के बाजारढाना में दो माह पहले वृद्धा की हत्या के मामले का खुलासा हो गया है। वृद्धा की हत्या और किसी ने नहीं बल्कि उसी के दत्तक पुत्र ने की थी। वह भी मात्र इतनी सी बात पर कि वृद्धा ने उसे शराब पीने के लिए पैसे नहीं दिए थे। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

    फरियादी श्रीवास पिता सदल बरकड़े (45) निवासी बाजारढाना घोड़ाडोंगरी ने 15.11.2021 को रिपोर्ट की थी कि मेरी चाची ओझे बाई पति स्व. तमल वरकडे (58) निवासी बाजार ढाना घोड़ाडोंगरी की किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा कुल्हाड़ी मारकर, हत्या कर दी गई है। रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपी के विरुध्द अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया। मामले के खुलासे के लिए विशेष टीम गठित की गई।

    टीआई सारणी रत्नाकर हिंगवे ने बताया कि मामले की छानबीन में यह खुलासा हुआ कि आरोपी मिश्रीलाल द्वारा उसकी बड़ी माँ ओझे बाई से दीपावली के दिन रात्रि में दारू पीने के लिये पैसे मांगे गए। मृतिका ने आरोपी मिश्रीलाल (दत्तक पुत्र) को पैसे देने से मना कर गाली गुफ्तार की गई। गुस्से में आकर मिश्रीलाल द्वारा ओझे बाई को घर के पीछे रखी धारदार कुल्हाड़ी साथ लेकर खेत में ले जा कर मृतिका ओझे बाई को पीछे से सिर में कुल्हाड़ी मार कर गिरा दिया एवं कुल्हाड़ी से चेहरे पर गंभीर चोट पहुंचाकर हत्या कर दी। प्रकरण में आये साक्ष्यों के आधार पर आरोपी मिश्रीलाल पिता तम्मू वरकडे (27) निवासी बाजार ढाना घोड़ाडोंगरी को गिरफ्तार किया गया।

    आरोपी की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी निरीक्षक रत्नाकर हिंगवे, चौकी प्रभारी घोड़ाडोंगरी नेपाल सिंह ठाकुर, सउनि बीडी मिश्रा, प्रआर भजनलाल, गजानन्द, एकानन्द भावरकर, शैलेन्द्र, राजेश, सतीश वाडिबा, कैलाश हर्णे, अजय खैरवार, धीरज काले की विशेष भूमिका रही।