सीएम का ऐलान: एमपी में पहली से 12 वीं तक के स्कूल 31 जनवरी तक बंद रहेंगे

रैलियों पर भी रोक, क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक में की कोरोना की तीसरी लहर की समीक्षा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 31 जनवरी तक सभी स्कूलों को बंद रखने का ऐलान कर दिया है। सभी तरह की रैलियों पर भी रोक लगा दी गई है। सीएम शिवराज ने शुक्रवार को क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक ली। इसमें कहा- कोरोना की तीसरी लहर में संक्रमितों की संख्या लगातार तेजी से बढ़ रही है। आज जरूरी है कि कुछ जिलों की समीक्षा करें। संक्रमण की रफ्तार रोकने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे।

इससे पहले इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सामने सुझाव रखा कि सख्ती बढ़ाने से कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम हो सकती है। सख्ती नहीं बढ़ाई तो रोजाना 10 हजार केस आएंगे।

CM ने ये फैसले भी लिए
◾ खेल गतिविधियां 50% कैपेसिटी से जारी रहेंगी।
◾ 20 जनवरी से प्री-बोर्ड टेक होम एग्जाम होंगे। यानी क्यूश्चन पेपर घर से हल करना होगा।
◾ बड़ी सभाएं और आयोजन प्रतिबंधित रहेंगे।
◾ 50% कैपेसिटी के साथ हॉल में कार्यक्रम हो सकेंगे।
◾ सभी तरह के धार्मिक और आर्थिक मेलों पर रोक रहेगी।

इन पर रोक नहीं
◾ धार्मिक स्थल खुले रहेंगे, लेकिन धार्मिक मेले नहीं लगेंगे।
◾ मकर संक्रांति पर स्नान पर रोक नहीं।


गांवों तक पहुंची थर्ड वेव
कोरोना की थर्ड वेव मध्यप्रदेश के शहरों से लेकर गांवों तक फैल चुकी है। इसने सरकार को चिंता में डाल रखा है, इसलिए सीएम राज्यस्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक ले रहे हैं। शिवराज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से ग्रामीण स्तर के जिम्मेदारों के साथ चर्चा कर रहे हैं।

मध्यप्रदेश के सभी जिलों में कोरोना पांव पसार चुका है। हर जिले में एक्टिव केस हैं। प्रदेशभर में कोरोना पॉजिटिविटी रेट लगातार बढ़ रहा है। 2 जनवरी को क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई थी। इस दिन कोरोना का पॉजिटिविटी रेट 0.36 प्रतिशत रेट था। 13 जनवरी को प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 5.15 प्रतिशत हो गया है। 11 दिन बाद पॉजिटिविट रेट में 4.79 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि ऐसे में मुख्यमंत्री प्रदेश में पाबंदियां भी बढ़ाने के लिए निर्देश जारी कर सकते हैं।

17 हजार से अधिक मिले नए मरीज
कोरोना के आंकड़े चौंकाने वाले हैं। 21 नवंबर को 85 केस थे। 2 जनवरी को पॉजिटिव केस की संख्या बढ़कर 608 हुई। अब यह संख्या 17,652 हो चुकी है। 11 दिन में 17 हजार से अधिक नए मरीज मिले हैं। तीसरी लहर बच्चों को भी तेजी से चपेट में ले रही है।

न्यूज सोर्स: https://dainik-b.in/66KcnLyINmb

Get real time updates directly on you device, subscribe now.