रात के अंधेरे में हो रही थी गोवंश तस्करी, अचानक पहुंच गए रक्षक

राष्ट्रीय हिंदू सेना के पदाधिकारियों ने पीछा कर मुक्त कराए 16 गोवंश

Cow smuggling was happening in the dark of night, suddenly the protectors arrived

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    जिले से गोवंश की तस्करी थमने का नाम ही नहीं ले रही है। गोवंश तस्करों द्वारा रात के अंधेरे में पैदल भी महाराष्ट्र (Maharashtra) के कत्लखानों (slaughterhouses) तक गोवंश पहुंचाए जा रहे जा रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में कत्लखाने ले जाए जा रहे 16 गोवंश (cattle) की राष्ट्रीय हिंदू सेना (Rashtriya Hindu Sena) के कार्यकर्ताओं ने बीती रात जान बचाई है। आरोपी रात के अंधेरे का फायदा उठाकर यह गोवंश ले जा रहे थे।

    आरोपी ले जा रहा था क्रूरतापूर्वक
    राष्ट्रीय हिंदू सेना के जिला युवा अध्यक्ष अनुज राठौर एवं जिला सह संयोजक नितेश मस्हकी ने बताया कि संगठन के पदाधिकारियों को सूचना प्राप्त हुई थी कि चीरापाटला जंगल के रास्ते एक बुजुर्ग व्यक्ति द्वारा क्रूरतापूर्वक दर्जनों गोवंश को महाराष्ट्र कत्लखाने ले जाया जा रहा है।

    कार्यकर्ताओं ने किया पीछा
    इस सूचना पर संगठन के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने पीछा किया और गोवंश को तस्करों से मुक्त कराया। युवा जिला सह संयोजक अमित यादव ने बताया कि गोवंश तस्करों से आए दिन संगठन के पदाधिकारी गोवंश को कत्लखाने ले जाने से बचा रहे हैं।

    यह भी पढ़ें… देखें वीडियो: ठूंस-ठूंस कर भरे थे गोवंश, कड़ाके की ठंड में रात में पीछा कर बचाया

    आरोपी को किया पुलिस के हवाले
    आज भी संगठन से जुड़े ग्रामीणों ने यह सूचना संगठन के प्रदेशाध्यक्ष दीपक मालवीय एवं चिचोली टीआई अजय सोनी को दी। पुलिस प्रशासन व संगठन की सूझबूझ से गोवंश तस्कर को पकड़ने में सफलता हासिल की गई है। उसे पुलिस के हवाले कर दिया है।

    यह भी पढ़ें… जंगल के रास्ते कत्लखाने ले जा रहे थे मवेशी, पुलिस को देश भागे आरोपी

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.