17 साल सेना में सेवा देकर गृह नगर लौटने पर गर्मजोशी से स्वागत

भूतपूर्व सैनिक संघ और परिजनों ने शहीद दीपक यादव चौक पर किया अभिनंदन

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    बैतूल शहर के कोठीबाजार क्षेत्र के निवासी महेश कुमार पांडे भारतीय सेना में सिग्रल रेजीमेंट में सिग्रल मेन पद पर 17 साल तक सेवा देने के बाद सेवानिवृत्त होकर सोमवार अपने गृह नगर वापस लौटे। उनकी सेवानिवृत्ति पठानकोट से हुई। उनकी वापसी पर परिजनों और भूतपूर्व सैनिक संघ ने उनका शहीद दीपक यादव चौक पर जोरदार स्वागत किया।

    स्वागत सत्कार से अभिभूत श्री पांडे ने बताया कि वे वर्ष 2005 में उन्हें भारतीय सेना में पदस्थ होने का मौका मिला था। उसके बाद उन्होंने सेना में 17 स्वर्णिम साल गुजारे। इस दौरान वे जम्मू कश्मीर, राजस्थान, मनाली में कई यूनिटों में पदस्थ रहे। इस दौरान कई मुश्किलें भी आईं, लेकिन भारत माता की सेवा का एक जुनून था, लिहाजा कोई परेशानी नहीं हुई। हमारे लिए वैसे भी देश सर्वोपरि है और बाकी सभी चीजें उसके बाद। हमें जो भी करना है अपने देश के लिए करना है। मैं जब 17 साल पहले अपनी फैमिली छोड़ कर गया था, तब मां ने कहा था कि भारत माता ही अब तुम्हारा दूसरा परिवार है। सेवानिवृत्त होने के बाद यह सोचकर अच्छा भी लग रहा है कि अब नागरिक जीवन जी सकूंगा, लेकिन इसके साथ ही दुख भी है कि काश मुझे भारत माता की सेवा करने का और मौका मिलता।

    इस अवसर पर सूबेदार भरत देशमुख, सूबेदार अजय वर्मा, संगठन सह संरक्षक डीआर रबड़े, उपाध्यक्ष केवलराम यादव, कोषाध्यक्ष देवीशंकर चौधरी, बैतूल प्रभारी हरीशंकर सावनेर, सह-सचिव सुखदेव पांसे, सदस्य अनिल सोलंकी, सह सचिव शिवपाल उघड़े, दिनेश साहू, नवीन पाटनकर, पवन साहू, योगेश कार्ले सहित अन्य सैनिक उपस्थित थे।