अलर्ट… फिर बेलगाम होता जा रहा कोरोना, आज इतने नए मरीज मिले

मध्यप्रदेश में लगातार दूसरे दिन 100 से ज्यादा पॉजिटिव, दूसरी लहर जैसे ही संकेत

Alert… Corona is becoming unbridled again, so many new patients found today

मध्य प्रदेश में कोरोना बेलगाम होता जा रहा है। लगातार दूसरे दिन 100 से ज्यादा केस मिले हैं। 7 महीने बाद कोरोना फिर पीक की ओर बढ़ रहा है। सबसे ज्यादा 80 मरीज इंदौर के और 27 मरीज भोपाल के शामिल हैं। इससे पहले 16 जून 2021 को 110 संक्रमित मिले थे।

यह भी पढ़ें… 25 से 30 जनवरी के बीच रहेगा कोरोना की तीसरी लहर का पीक, बच्चों को सुरक्षित रखने यह करें

पिछले साल दिसंबर के अंतिम सप्ताह में प्रदेश में हर रोज औसतन 1000 मरीज मिल रहे थे। इनकी संख्या जनवरी में घटना शुरू हुई और अंतिम सप्ताह में औसतन 200 मरीज तक आ गई थी। फरवरी तक यही स्थिति रही। इसके बाद लोग बेफिक्र हो गए और मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग करना छोड़ दिया। नतीजा यह रहा मार्च के पहले सप्ताह में संक्रमितों की 400 तक पहुंच गई, जो मार्च के अंतिम सप्ताह में 2000 के पार थी। अप्रैल में हर रोज नए मरीजों की संख्या 10 हजार के पार थी।

यह भी पढ़ें… छात्र-छात्राओं को वैक्सीन लगवाने के लिए पहले करने होंगे यह जरूरी काम

संक्रमण की तेज रफ्तार का अंदाजा इससे भी लगता है कि सिर्फ 14 दिन में प्रदेश में 633 और भोपाल में 146 मरीज बढ़ गए। मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए भोपाल में कलियासोत पहाड़ी स्थित पंडित खुशीलाल आयुर्वेद अस्पताल में 6 महीने बाद दोबारा कोविड केयर सेंटर बनाया जाएगा। यहां पर करीब 300 बेड रिजर्व कर दिए गए हैं। इसमें पहली बार 200 बेड ऑक्सीजन के रहेंगे।

यह भी पढ़ें… सावधान… बैतूल और आमला में मिले 2 पॉजिटिव, पड़ोस में ओमीक्रॉन की एंट्री

इंदौर में संक्रमण दर (R वैल्यू) 1.16 फीसदी पर पहुंच गई है। सरकार ने स्पष्ट किया है कि कंटेनमेंट जोन तभी बनाए जाएंगे, जब संक्रमण दर 10% से ज्यादा हो या 40% से अधिक मरीज ICU या ऑक्सीजन सपोर्ट पर हों। इंदौर जिला प्रशासन ने होम आइसोलेशन की व्यवस्था लागू कर दी है। 70 से 75 फीसदी मरीज घर पर ही इलाज करवा रहे हैं। यानी205 संक्रमित होम आइसोलेशन में हैं और करीब 77 मरीज अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती हैं। फिलहाल राधास्वामी कोविड केयर सेंटर शुरू नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें…अच्छी खबर: 15 से 18 साल के बच्चों को भी लगेंगे कोविड टीके, स्कूल में ही होगा वैक्सीनेशन

मुख्यमंत्री चेता चुके, तीसरी लहर आ गई
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मान चुके हैं कि प्रदेश में तीसरी लहर आ चुकी है। उन्होंने कहा कोरोना की तीसरी लहर आ गई है, जिसका सामना जन सहयोग से करना है। सभी आवश्यक सुविधा बना ली है, लेकिन सजग और सतर्क रहना है।

यह भी पढ़ें…अजब है इनकी समस्या, कोविड वैक्सीन को लेकर भर चुके अभी तक 9000 रुपये जुर्माना

एमपी में ओमिक्रॉन के 10 केस
मध्य प्रदेश में ओमिक्रॉन मरीजों की संख्या बढ़कर दस हो गई। शनिवार को ही छिंदवाड़ा में 26 साल की स्टूडेंट की रिपोर्ट में ओमिक्रॉन म्यूटेंट मिला। वह नीदरलैंद (यूरोपियन कंट्री) से लौटी है। इससे पहले इंदौर में भी 9 ओमिक्रॉन केस मिल चुके हैं।

न्यूज सोर्स:https://dainik-b.in/QCkkkA4Jtmb

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.