छात्र-छात्राओं को वैक्सीन लगवाने के लिए पहले करने होंगे यह जरूरी काम

स्कूल में लगने वाले टीके के लिए भी करवाना होगा रजिस्ट्रेशन, आधार कार्ड भी लगेगा

To get the vaccine, students will have to do this important work first

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    यदि आप सोच रहे हैं कि पहले स्कूलों में लगने वाले टीकों की तरह 15 से 18 साल के स्कूली बच्चों को लगने वाले टीके भी बिना कोई प्रक्रिया किए वैसे ही लग जाएंगे तो आप गलत हैं। दरअसल, स्कूली बच्चों को स्कूल में चलने वाले अभियान के तहत टीके लगवाने के लिए भी वे सभी प्रक्रियाएं और औपचारिकताएं करना होगा जो कि सामान्य व्यक्ति को करनी होती हैं। जैसे, ना केवल बच्चों का रजिस्ट्रेशन करवाना होगा, बल्कि टीका लगवाने के दिन उन्हें अपना आधार कार्ड भी साथ लेकर स्कूल जाना होगा।

    यह भी पढ़ें… सावधान… बैतूल और आमला में मिले 2 पॉजिटिव, पड़ोस में ओमीक्रॉन की एंट्री

    होशंगाबाद जिले में चल रहे किशोर वैक्सीन जागरूकता कायर्क्रम में विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने यह उपयोगी जानकारी दी। सारिका ने आगे कहा कि बचपन में बुरी नजरों से बचाने के लिए आपके द्वारा अपने बच्चों के चेहरे पर लगाए गए काले टीके के पन्द्रह बरस बाद अब कोविड के वायरस की काली नजरों से बचाने कोवैेक्सीन का टीका लगवाने आपकी बारी आ गई है।

    नेशनल अवार्ड प्राप्त सारिका ने कहा कि जिस प्रकार आपने अपने बच्चे को डीटीपी, पोलियो, खसरा आदि से बचाव के लिये टीके बिना किसी संकोच के लगवा कर इन बीमारियों से बच्चे का बचाव किया, उसी कड़ी में अब कोवैक्सीन की बारी है। 28 दिन के अंतर पर लगने वाली दो डोज में से पहली के लिए पंजीयन आरंभ हो चुका है तथा 15 से 18 साल के बच्चों के लिए 3 जनवरी से स्कूलों में इसके लगने की शुरूआत हो रही है।

    यह भी पढ़ें… 25 से 30 जनवरी के बीच रहेगा कोरोना की तीसरी लहर का पीक, बच्चों को सुरक्षित रखने यह करें

    टीके के प्रति संकोच या डर का जबाब देते हुए सारिका ने जागरूकता कायर्क्रम में कहा कि जिस प्रकार वयस्क आबादी 2021 में स्वयं वैक्सीन लगवा कर कोविड के घातक प्रभाव से बचाव कर पा रही हैं उसी प्रकार 2022 में किशोरों को सुरक्षाचक्र देने की बारी आ चुकी है। इसके लिए बच्चों के पालक कोविन पोर्टल पर पंजीयन कराएं और बच्चे को नाश्ता या भोजन करवा कर स्कूल भेजें। सारिका ने कायर्क्रम में पम्पलेट की मदद से संदेश दिया कि देर मत कीजिए, ओमिक्राॅन का फैलाव जारी है।

    यह भी पढ़ें… बैतूल में एक और कोरोना पॉजिटिव, एक्टिव केस बढ़कर हुए दो

    इन बातों का रखें विशेष ध्यान
    🟤 बच्चे को नाश्ता या भोजन करवा कर आधार कार्ड के साथ स्कूल भेजें।
    🟤 बच्चे को माता-पिता में से किसी एक के नम्बर की जानकारी देनी होगी।
    🟤 टीका लगवाने के लिए अलग से सहमति पत्र की जरूरत नहीं है।
    🟤 टीके के लिये पंजीयन पालकों या बच्चे को ही कराना होगा।

    यह भी पढ़ें… बड़ा खतरा: जिले में 5 और कोरोना मरीज मिले, एक्टिव केस बढ़कर 9 हुए

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.