खदान में फिर घुसे हथियारबंद डकैत, इस बार मौके पर ही धरे गए

रात भर चला पुलिस का सर्चिंग अभियान, हमले में एक सुरक्षा प्रहरी घायल

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    बैतूल जिले की पाथाखेड़ा स्थित भूमिगत कोयला खदान एक बार फिर डकैतों का निशाना बनी। रविवार शाम को 15 से 20 हथियारबंद बदमाशों ने तवा वन खदान पर हमला बोला। बदमाशों के हमले में एक सुरक्षा प्रहरी घायल हो गया। हालांकि इस बार डकैत अपने मंसूबे में पूरी तरह कामयाब नहीं हो पाए। पुलिस द्वारा चलाए गए सर्चिंग अभियान के चलते 6 बदमाशों को सुबह खदान से ही धर दबोचा गया है। शेष की तलाश जारी है।

    प्राप्त जानकारी के अनुसार वेस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड पाथाखेड़ा की तवा वन में रविवार शाम 7.30 बजे हथियारबंद 15 से 20 डकैतों ने धावा बोल दिया। एक सुरक्षा प्रहरी पर डकैतों के द्वारा तलवार से हमला कर दिया गया जिसकी वजह से वह घायल हो गया है। उसे प्राथमिक उपचार के लिए वेस्टर्न कोल फील्ड लिमिटेड पाथाखेड़ा के एरिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

    यह भी पढ़ें… सारनी माइंस में चोरी मामले की जांच शुरू, संदिग्धों से हो रही पूछताछ

    सूचना मिलने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीरज सोनी के द्वारा रात में ही तवा वन खदान का निरीक्षण किया गया। सुबह पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया। सूचना मिलने पर सारनी पुलिस के 40 से अधिक जवानों के द्वारा लगभग 13 घंटे की मशक्कत के बाद 6 आरोपियों को सोमवार सुबह 9.30 बजे पकड़ने में सफलता प्राप्त हुई है। पुलिस के द्वारा आरोपियों के खिलाफ धारा 294, 323, 342, 427, 395, 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

    यह भी पढ़ें… एडीशनल एसपी को सौंपी खदान में चोरी मामले की जांच

    आरोपियों के साथ इस घटना में और कौन-कौन लोग शामिल थे, इस की पूछताछ सारनी पुलिस के द्वारा की जा रही है। कार्यवाही में अनुविभागीय अधिकारी पुलिस सारणी महेन्द्र सिंह चौहान, थाना प्रभारी फतेह बहादुर, चौकी प्रभारी पाथाखेड़ा राहुल रघुवंशी व समस्त पुलिस स्टाफ की विशेष भूमिका रही। पुलिस द्वारा तीन पार्टी बना कर सर्च ऑपरेशन चलाया गया।

    घटना में 15-16 लोगों के शामिल होने की जानकारी मिली है। इनमें से 6 को हिरासत में ले लिया गया है। बाकी के नाम उजागर हो गए हैं। उनकी भी जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।
    महेंद्र सिंह चौहान, एसडीओपी, सारनी

    यह भी पढ़ें…आखिर टीआई, चौकी प्रभारी और एएसआई पर गिरी गाज, किया सस्पेंड

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.