आखिरकार लंबे इंतजार के बाद राजा भोज प्रतिमा का हुआ अनावरण

आयोजन में जिले भर से बड़ी संख्या में उपस्थित हुए समाज के लोग


बैतूल। परम प्रतापी चक्रवर्ती सम्राट राजा भोज की विशाल प्रतिमा का आज अभिनंदन सरोवर स्टेडियम के पास बैतूल में अनावरण किया गया। राजा भोज की प्रतिमा का अनावरण पवार समाज संगठन के जिला अध्यक्ष बाबूलाल कालभोर, वरिष्ठ अधिवक्ता अवध हजारे, बैतूल विरासत समिति के संयोजक एवं पवार समाज संगठन के पूर्व जिलाध्यक्ष राजू पवार तथा भाजपा नेता राजा पवार सहित समाज के भीमराव पवार बैतूल बाजार, रामरतन पवार, रतनलाल हजारे, अवध हजारे, सुधाकर पवार, राजू पवार, कमल पवार, अतीत पवार एवं वरिष्ठजनों ने किया।

इस अवसर पर श्री हजारे ने राजा भोज के जीवन पर प्रकाश डाला। मंच संचालन सुधाकर पवार द्वारा किया गया। प्रतिमा अनावरण के लिए समाज संगठन की ग्राम इकाइयां व बैतूल संगठन, सारणी संगठन, घोड़ाडोंगरी ब्लॉक संगठन से भारी मात्रा में सामाजिक लोग पहुंचे। प्रतिमा अनावरण को लेकर बड़ा हर्ष और उल्लास देखा गया। सचिन पवार, विनय पवार ने पूरे आयोजन की जिम्मेदारी बखूबी निभाई। आयोजन के सूत्रधार राजू पवार पूर्व जिला अध्यक्ष पवार समाज संगठन बैतूल थे। जिला पवार समाज संगठन का विशेष योगदान रहा। अन्य समाज के प्रतिष्ठित लोग राजा भोज अनावरण समारोह में पहुंचे। उनका भी समाज के द्वारा सम्मान किया गया। बैतूल लायंस क्लब महक ग्रुप भी कार्यक्रम में उपस्थित रहा।

कार्यक्रम में भाजपा मंडल अध्यक्ष विक्रम वैद्य एवं विकास मिश्रा गंज मंडल अध्यक्ष तथा सांसद प्रतिनिधि बंडू धोटे, हेमंत वागद्रे भी उपस्थित हुए। ग्राम माथनी मुलताई तहसील से देवीराम पवार करीब 40 लोगों को लेकर अपने छोटे से गांव से अनावरण में पहुंचे। कोरोना की वजह से विगत कई दिनों से राजा भोज प्रतिमा का अनावरण रुका हुआ था। समाज के पूर्व अध्यक्ष राजू पवार ने बताया कि प्रतिमा दानदाता जो भी कार्यक्रम में उपस्थित नहीं हो पाए हैं, उनका सम्मान उनके घर जाकर या आगामी किसी कार्यक्रम में सभी दानदाताओं को सम्मानित किया जाएगा।

विधायक निलय डागा देंगे 5 लाख रुपये
इस अवसर पर बैतूल विधायक निलय डागा द्वारा अपने संबोधन के दौरान राजा भोज की प्रतिमा हेतु छतरी तथा बाउंड्री वाल निर्माण कार्य के लिए 5,00,000 रुपये विधायक निधि से देने की घोषणा की गई। इस मूर्ति को स्थापित करने में योगदान देने वालों को समाज की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। समाज के ही विनय पवार, सचिन पवार, मुन्ना पवार, अमन यादव को विशेष रूप से सम्मानित किया गया।