महिला को पड़ी रक्त की जरूरत तो तत्काल पहुंच गए रितेश और नितिन

रक्तदान करने से बचाई जा सकती है लाखों जिंदगियां: विकास मिश्रा

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    आज जब एक महिला मरीज को 3 यूनिट ओ पॉजिटिव रक्त की जरूरत पड़ी तो रक्तवीर रितेश बरथे व रक्तमित्र नितिन प्रजापति ने तुरंत जिला अस्पताल पहुँच कर रक्तदान किया और प्राणों की रक्षा करने में अपना योगदान देते हुए सामाजिक दायित्व का निर्वहन किया। रक्तमित्र विकास मिश्रा ने बताया कि विगत कुछ दिनों से जिला अस्पताल में कैम्प की कमी से रक्त का स्टॉक नहीं है। इस कारण इमरजेंसी केस में भी रक्तपूर्ति समाजसेवियों के माध्यम करना पड़ रहा है। अतः आप सभी रक्तमित्रों से निवेदन है 13 दिसंबर को विवेकानंद वार्ड के साई समिति द्वारा आयोजित किए जाने वाले शिविर में पहुंचकर अधिक से अधिक रक्त दान करें। उन्होंने कहा कि रक्तदान महादान होता है। धीरे-धीरे लोग इसका महत्व समझने लगे हैं और रक्तदान के प्रति जागरूकता का माहौल भी देखने को मिल रहा है। इसके बावजूद अभी भी बहुत सारे लोग हैं, जिनको रक्तदान करने से डर लगता हैं। हमारा कर्तव्य हैं कि हम उन्हें जागरूक करें। हमको यह भावना जन-जन तक पहुंचानी चाहिए कि रक्तदान महादान है। इससे लाखों लोगों की जिंदगी बच सकती है।

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.