देखें वीडियो… भगवान को प्रसन्न करने कांटों पर लोटे लोग, खून बहा पर नहीं हुआ कष्ट

बीजासन गांव के रज्जड़ समुदाय के लोगों ने वर्षों से जारी परंपरा का किया निर्वहन

  • निखिल सोनी, आठनेर
    बैतूल जिले के आठनेर थाना क्षेत्र के ग्राम बीजासन में रज्जड़ समुदाय के सदस्यों ने बोंडई उत्सव मनाया। इसके तहत बड़ी संख्या में समाज के लोगों ने एकत्रित होकर कांटों पर लेट कर मनौती मांगी। वर्षों से जारी यह परंपरा आज भी कायम है।

    गांव के भोजू, नरेंद्र, कल्लू ने बताया कि समाज के सभी युवाओं और बुजुर्गों द्वारा श्रद्धापूर्वक और उत्साह से पर्व मनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि भगवान को खुश करने के लिए कांटे पर लेटते हैं। उसके बाद गांव और क्षेत्र की सुख-समृद्धि की कामना करते हैं। समुदाय के बीच वर्षों से चली आ रही परंपरा आज भी कायम है।

    बीजासन गांव में पर्व मनाने के लिए समाज के सभी लोग बड़ी संख्या में यहां एकत्रित होते हैं। ऐसी भी मान्यता बताई जाती है कि जब तक शरीर से खून नहीं बहता है, तब तक लगातार कांटों पर लगातार लोटना पड़ता है। परंपरा को जिंदा रखने के लिए समाज के युवा वर्ग ने 8 दिसंबर को यह पर्व मनाया।

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.