देखें वीडियो… बैतूल के जंगल में दिखा तेंदुआ, राहगीरों ने बनाया मोबाइल से वीडियो

दक्षिण वन मंडल की मोर्शी रेंज में तेंदुआ को देखे जाने का एक परिवार ने किया दावा

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    जिले में इन दिनों विभिन्न क्षेत्रों में बाघ और तेंदुआ देखे जाने के दावें किए जा रहे हैं वहीं उनकी मौजूदगी के प्रमाण भी देखने को मिल रहे हैं। अब एक नया वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें बताया जा रहा है कि दक्षिण वन मंडल की मोर्शी रेंज में शनिवार की शाम तेंदुआ दिखा। वीडियो बनाने वाले उइके परिवार का दावा है कि मोर्शी रेंज के बोरपेंड व सुकुवा के पास सैदाल घोन्दी (नाला) के पास शनिवार की शाम 7 बजे सालबर्डी से आते समय उन्होंने ने बाघ जैसे वन्यप्राणी को सड़क क्रासिंग करते समय देखा। परिवार के द्वारा इसका वीडियो भी बनाया गया।

    उइके परिवार का कहना कि इस वन्यप्राणी को देखकर उनका पूरा परिवार खुश हो गया कुछ लोगों ने इसकी सूचना रेंज के अधिकारियों को भी दी है। अगर दावा सही है तो वन विभाग के लिए खुशी की खबर है क्योंकि इस समय अखिल भारतीय बाघ आंकलन 2022 के तहत वन क्षेत्रों में वन्य प्राणियों का आंकलन किया जा रहा है। जिले में कुछ जगह बाघ के पगमार्क भी मिले हैं।

    इससे ऐसा लगता है कि प्रदेश को जो टाइगर स्टेट का दर्जा मिला था उसे वन विभाग बरकरार रखेगा। इस संबंध में मोर्सी रेंज के रेंज अधिकारी से उनका पक्ष लेना चाहा, लेकिन उनका मोबाइल नेटवर्क में नहीं होने के कारण उनका पक्ष नहीं आ पाया। जानकारों ने वीडियो देख कर बताया कि यह तेंदुआ का बच्चा है और 8 से 10 माह का होगा। आसपास इसकी माँ भी होगी। हालांकि यह इलाका मेलघाट टाइगर रिजर्व से लगा हुआ है। इस सम्बंध में दक्षिण वन मंडल के डीएफओ पुनीत गोयल का कहना है कि वह वन्यप्राणी तेंदुआ लग रहा है, हालांकि वीडियो स्पष्ट नहीं है।