बीमा और फिटनेस के बगैर सड़क पर दौड़ रही थी बस, विभाग ने की जब्त

हादसों के बाद चलाए जा रहे चेकिंग अभियान में सामने आ रही लापरवाहियां

शनिवार को परिवहन विभाग ने बसों की जांच-पड़ताल की।
  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    नरखेड़ और मौड़ीढाना में हुए हादसों के बाद जब परिवहन विभाग ने चेकिंग अभियान शुरू किया तो कई खामियां सामने आ रही है। यहां तक कि बगैर बीमा और फिटनेस के ही बसें सड़कों पर दौड़कर यात्रियों और आम लोगों का जीवन खतरे में डाल रही थी। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बस संचालकों को विभाग की जैसे खुली छूट थी। यदि यह हादसे नहीं होते तो शायद अभी भी विभाग बसों की जांच-पड़ताल की जहमत नहीं उठाता।

    यह भी पढ़ें…हादसों के बाद ली सुध, परिवहन विभाग ने शुरू की जांच-पड़ताल, दी चेतावनी

    जिला परिवहन अधिकारी रंजना सिंह कुशवाहा द्वारा शनिवार को विशेष चेकिंग अभियान के तहत सवारी वाहनों की चेकिंग की गई। इस दौरान 25 यात्री बसें चेक की गई। इनमें से सात बसों के विरुद्ध चालानी कार्रवाई करते हुए 21 हजार रुपए शमन शुल्क वसूल किया गया। साथ ही बीमा एवं फिटनेस प्रमाण पत्र के बिना पाए जाने पर एक बस जब्त की गई है।

    यह भी पढ़ें…मौड़ीढाना दुर्घटना: बस का उपयुक्तता प्रमाण पत्र, फिटनेस और परमिट निरस्त

    जिला परिवहन अधिकारी ने बताया कि यह अभियान निरंतर जारी रहेगा। उन्होंने वाहन चालकों से वाहन के साथ आवश्यक वैध दस्तावेज- परमिट, फिटनेस प्रमाण पत्र, बीमा प्रमाण-पत्र, पीयूसी, पंजीयन प्रमाण पत्र, चालक लाइसेंस साथ में रखने की अपील की है।

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.