हिंसक वन्यप्राणी के हमले में घायल एक भैंस की हुई मौत, दो दिन पहले किया था जख्मी

दूसरी भैंस की हालत भी खराब, कल नजर आया था बुंडाला डैम के टापू पर नजर

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881

    मुलताई क्षेत्र के जौलखेड़ा के पास स्थित ग्राम जामुनझिरी के किसान की एक भैंस की शुक्रवार सुबह मौत हो गई। बुधवार रात में किसान के खेत पर बंधी 2 भैंसों पर हिंसक वन्यप्राणी ने हमला कर बुरी तरह जख्मी कर दिया था। इन घायल भैंसों का इलाज चल रहा था।

    जौलखेड़ा क्षेत्र में हिंसक वन्यप्राणी की मौजूदगी लगातार बनी हुई है। जौलखेड़ा में इस वन्यप्राणी के पगमार्क नजर आने के बाद बुधवार रात में उसने किसान ज्ञानराव पाठेकर के खेत में बंधी 2 भैंसों पर हमला कर दिया था। इनमें से एक भैंस रात में ही जान बचाकर किसी तरह किसान के घर पहुंची थी, जबकि दूसरी को कल सुबह घर ले जाया गया था। कल इन दोनों का इलाज शुरू किया गया था, लेकिन रात में ही घर पहुंचने वाली बड़ी भैंस की आज सुबह मौत हो गई। किसान के भतीजे गोपाल ने बताया कि दूसरी घायल भैंस की स्थिति भी ठीक नहीं है। वह भी चारा खाना बंद कर चुकी है। ऐसे में पता नहीं वह भी बच पाती है या नहीं। किसान के द्वारा भैंस की मृत्यु की सूचना वन विभाग को दे दी गई है। कुछ देर में विभाग की टीम गांव पहुंचने वाली है। हिंसक वन्यप्राणी के हमले में मवेशी की मौत होने पर मुआवजा देने का प्रावधान है।

    यह भी पढ़ें ➡️ जामुनझिरी में दो भैंसों पर किया वन्यप्राणी ने हमला

    जौलखेड़ा क्षेत्र में दहशत का माहौल

    जौलखेड़ा क्षेत्र में हिंसक वन्यप्राणी की लगातार मौजूदगी बनी होने से क्षेत्र के ग्रामीणों में भारी दहशत का माहौल है। कल कुछ ग्रामीणों ने वन्यप्राणी को बुंडाला डैम के टापू पर देखा था। लोग शाम होने के बाद घर से नहीं निकल रहे हैं। उन्हें डर है कि कहीं उन पर हमला ना कर दें। वन विभाग भी लगातार चौकसी बरत रहा है और लोगों को सचेत रहने की सलाह दे रहा है।

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.