बैतूल में इन 15 लोगों ने अभी तक नहीं लगवाया था वैक्सीन का पहला डोज; यह बोले सीएम शिवराज

समझाईश के बाद लगवाया टीका, दूसरा डोज भी लगवाने का किया टीम से वादा

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    शासन, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग भले ही सौ फीसदी टीकाकरण पर पूरा जोर दे रहे हो, लेकिन बैतूल जिले में ही अभी ऐसे कई लोग हैं जिन्होंने दोनों डोज तो दूर पहला डोज तक नहीं लगवाया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सेहरा के क्षेत्र में हाईवे पर महाराष्ट्र एवं राजस्थान प्रदेश के 15 लोग भी ऐसे थे, जिन्हें अभी तक वैक्सीन का पहला डोज नहीं लगा था। यह लोग जीविकोपार्जन हेतु डेरा लगाकर रहते हैं और अन्य ग्रामों में घूम-घूम कर अपना कार्य करते हैं। कोविड टीकाकरण महाअभियान के दौरान जब विकासखंड स्तरीय स्वास्थ्य टीम निरीक्षण हेतु जा रही थी, तभी घुमन्तु लोगों की एक टुकड़ी पर स्वास्थ्य टीम की नजर गई।

    स्वास्थ्य टीम द्वारा उनसे कोविड टीकाकरण की स्थिति जानने पर उनके द्वारा बताया गया कि वे इधर-उधर जीविका का साधन जुटाने के लिए घूमते रहते हैं, इसलिए उन्होंने कोविड का टीका नहीं लगवाया है। साथ ही यह भी बताया कि इस टीके से कहीं बीमार ना पड़ जाएं इसलिए टीका नहीं लगवाना चाहते और उन्होंने टीका लगाने से साफ इंकार कर दिया। खंड चिकित्सा अधिकारी सेहरा डॉ. उदय प्रताप सिंह तोमर एवं खंड विस्तार प्रशिक्षक चन्द्रगीता पद्माकर द्वारा उन्हें कोविड टीका लगाने के फायदे एवं टीका नहीं लगाने के नुकसान के बारे में समझाईश दी गई। समझाईश के बाद घुमन्तु लोगों द्वारा टीकाकरण हेतु सहमति जताई गई एवं 15 लोगों द्वारा कोविड वैक्सीन का पहला डोज लगवाया गया। साथ ही समयावधि पश्चात् द्वितीय डोज लगाने की बात भी कही।
    दिसंबर तक सभी को दोनों डोज लगाना हमारी प्राथमिकता: सीएम

    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपील की है कि तीसरी लहर जैसी किसी समस्या या आशंका को ध्यान में रखकर कोरोना से बचाव के सभी आवश्यक उपायों पर अमल करें। मास्क लगाएँ, हाथों को समय-समय पर साफ करें और दूसरों से आवश्यक दूरी अवश्य बनाकर रखें। कुछ देशों में कोरोना के नए वेरिएंट के मामले सामने आ रहे हैं। अभी तक भारत में इसकी उपस्थिति की कोई सूचना नहीं है, लेकिन सावधानियाँ अत्यंत जरूरी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से प्रदेशवासियों से यह अपील की गई है। मुख्यमंत्री ने इस आशय का ट्वीट भी किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपील में कहा है कि कोविड वैक्सीन अवश्य लगवाएँ। दिसम्बर माह तक वैक्सीन के दोनों डोज प्रदेश के सभी नागरिकों को लगाना हमारी प्राथमिकता है। यही कोरोना से बचाव का सबसे कारगर उपाय है। अभी सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक नहीं होगी, लेकिन संक्रमण रोकने के सभी नियमों और सावधानियों का पालन प्रदेशवासी अवश्य करें।
    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि दूसरे देशों से मध्यप्रदेश आने वाले यात्रियों के संबंध में भारत सरकार के सर्विलांस नियमों का कड़ाई से पालन किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दूसरे देशों से आने वाले व्यक्तियों से सहयोगात्मक रवैया अपनाने की अपील की है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिन लोगों को संक्रमण के जरा भी लक्षण दिखते हैं, वे तुरंत टेस्ट करवाएँ। बिल्कुल भी असावधान न रहें, संक्रमण फैलने से रोकने के जो आवश्यक नियम हैं, उन सबका पालन करें। सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी। राज्य सरकार की कोशिश है कि तीसरी लहर न आ पाए।

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.